'जीती रहिये' कुमार विश्वास ने कांग्रेस नेता अलका लांबा को लेकर किया ट्वीट, कर दिया सबको लाजवाब

चर्चित कवि कुमार विश्वास और कांग्रेस नेता अलका लांबा की फाइल फोटो।

कवि कुमार विश्वास ने अपने ताजा ट्वीट में कांग्रेस की नेता और चांदनी चौक की पूर्व विधायक अलका लांबा को ट्वीट के जरिये जवाब देते हुए लाजवाब कर दिया है साथ ही आशीर्वाद भी दिया है जीती रहिये।

नई दिल्ली, ऑनलाइन डेस्क। अपनी मदहोश कर देने वाली कविताओं के जरिये देश-दुनिया में चर्चित कवि कुमार विश्वास आर्थिक और राजनीतिक गतिविधियों पर अपने विचार प्रकट करते रहते हैं। इसी के साथ वह अपने चुटीले अंदाज के लिए भी जाने जाते हैं। इस कड़ी में कवि कुमार विश्वास ने कांग्रेस की नेता और चांदनी चौक की पूर्व विधायक अलका लांबा को ट्वीट के जरिये जवाब देते हुए लाजवाब कर दिया है, साथ ही आशीर्वाद भी दिया है 'जीती रहिये'। अलका लांबा और कुमार विश्वास दोनों की आम आदमी पार्टी में साथी रह चुके हैं। जहां कुमार विश्वास आम आदमी पार्टी के संस्थापक सदस्यों में से एक हैं, वहीं अलका लांबा चांदनी चौक से AAP से पूर्व विधायक रह चुकी हैं।

यहां जानिये क्या है पूरा मामला

दरअसल, कांग्रेस की दिग्गज नेता अलका लांबा ने कुमार विश्वास के ट्वीट एकाउंट पर टैग करते हुए लिखा है 'बड़े लोग, बड़े बड़े मैदान, बड़ी बड़ी बातें, डॉ सहाब कम हम भी नहीं हैं, मैदान ना सही गमला ही सही, आप से प्रभावित होकर और "यह हम Desi Cherry Picking कर रहे हैं।' वहीं, इस पर कुमार विश्वास कहा रुकने वाले थे। उन्होंने इसके  जवाब में ट्वीट किया है- 'प्रकृति तो मां है @LambaAlka उसका तो हर घर हरा-भरा है ! इसकी क्या गणना कि किस मां का घर छोटा और किस मां का घर बड़ा है। जीती रहिए।'

यहां पर बता दें कि कुमार विश्वास और अलका लांबा दोनों ही आम आदमी पार्टी के सक्रिय सदस्य रह चुके हैं। अलका लांबा ने तो दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020 से पहले ही AAP को अलविदा कह दिया था, जबकि कुमार विश्वास आम आदमी पार्टी के संस्थापक सदस्यों में शुमार हैं और फिलहाल सक्रिय नहीं है। लेकिन यह भी सच है कि उन्होंने आम आदमी पार्टी से इस्तीफा भी नहीं दिया है।

 पिछले साल फरवरी महीने दिल्‍ली विधानसभा चुनाव के लिए वोट डालने के दौरान चांदनी चौक से कांग्रेस उम्मीदवार अलका लांबा ने AAP के एक कार्यकर्ता पर थप्पड़ चला दिया था। आरोप है कि AAP कार्यकर्ता ने अलका लांबा पर अभद्र टिप्पणी की थी। इस घटना के बाद कवि कुमार विश्वास आम आदमी पार्टी में साथी रहीं अलका लांबा के समर्थन में उतर आए थे। उस समय कुमार विश्वास ने अलका लांबा को योद्धा बताया था। तब कुमार विश्वास ने ट्वीट कर अलका लांबा को अपनी ओर से एक तरह का समर्थन भी दिया था।