दिल्ली से जा रहे हैं कुंभ मेला तो जाने लें सरकार की यह गाइडलाइन, कोरोना के बढ़ने के कारण लिया फैसला

 

कुंभ मेले में जाने से पहले दिखाने होंगे कई सर्टिफिकेट

अगर किसी को कुंभ मेले में जाना है तो मेडिकल काॅलेज के डाॅक्टर से या सरकारी अस्पताल के डाॅक्टर से मेडिकल सर्टिफिकेट बनवाना होगा। यह हेल्थ सर्टिफिकेट बनवाना अनिवार्य है। इसके साथ ही आरटी-पीसीआर टेस्ट कराकर कोविड नेगेटिव सर्टिफिकेट भी दिखाना होगा।

नई दिल्ली, राज्य ब्यूरो। हरिद्वार में लगे कुंभ मेले में जाने के पहले दिल्ली के श्रद्धालुओं को कई सर्टिफिकेट दिखाने होंगे। दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) ने बुधवार को आदेश जारी किया है कि अगर किसी को कुंभ मेले में जाना है तो मेडिकल काॅलेज के डाॅक्टर से या सरकारी अस्पताल के डाॅक्टर से मेडिकल सर्टिफिकेट बनवाना होगा। यह हेल्थ सर्टिफिकेट बनवाना अनिवार्य है। इसके साथ ही आरटी-पीसीआर टेस्ट कराकर कोविड नेगेटिव सर्टिफिकेट भी दिखाना होगा।

श्रद्धालु कोविड सर्टिफिकेट की काॅपी साथ रखें

यह सर्टिफिकेट हरिद्वार जाने वाली तिथि से 72 घंटे के भीतर का ही निर्गत किया हुआ होना चाहिए। श्रद्धालु कोविड सर्टिफिकेट की कापी साथ रख सकते हैं अथवा वे मोबाइल में भी इस रिपोर्ट की कापी ले जा सकते हैं। कुंभ मेले से लौटकर उन्हें फिर कोरोना टेस्ट कराना होगा। 65 वर्ष से ज्यादा उम्र के लोग, दस वर्ष से कम आयु के बच्चे, गंभीर बीमारी से पीड़ित लोगों को मेले में जाने की अनुमति नहीं दी गई है।

रफ्तार रही धीमी, 28,394 लोगों ने ही लगवाया टीका

इधर, राजधानी में बुधवार को टीकाकरण के प्रति लोगों में कम उत्साह देखने को मिला। इससे टीकाकरण की रफ्तार धीमी रही। इसके कारण मात्र 28,394 लोगों को ही टीका लगा। पिछले करीब एक सप्ताह में यह टीकाकरण का सबसे कम आंकड़ा है। वहीं, मंगलवार की तुलना में 10,043 कम है। बुधवार को 19,272 लोगों ने टीके की पहली व 9122 लोगों ने टीके की दूसरी डोज ली। इसके साथ ही टीका लगवाने वालों में 45-59 आयु वर्ग, अग्रिम पंक्ति और स्वास्थ्य कर्मियों की संख्या भी पिछले दिनों की तुलना में कम रही। टीकाकरण के बाद सिर्फ एक व्यक्ति में हल्का दुष्प्रभाव देखा गया।

17 मार्च को टीकाकरण के आंकड़े

कुल टीकाकरण- 28,394

पहली डोज- 19,272

60 साल से अधिक उम्र के लोग-13,609

45-59 साल की उम्र के लोग-2433

अग्रिम पंक्ति के कर्मचारी-1841

स्वास्थ्य कर्मी-1389

दूसरी डोज लेने वाले स्वास्थ्य व अग्रिम पंक्ति के कर्मचारी-9,122