इमरान खान की देशवासियों से भावुक अपील, कहा- ...तो देश के अस्‍पताल नहीं संभाल सकेंगे ऐसे हालात

 


पाकिस्तान में Covid19 के मामले तो होगी मुश्किल

इमरान खान ने कहा है कि देश में कोरोना के मामले यदि ऐसे ही बढ़ते रहे तो इसके लिए देश की स्‍वास्‍थ्‍य सेवाएं तैयार नहीं हैं। वो इन्‍हें नहीं संभाल सकेंगी। इसलिए हर कोई इस महामारी के प्रति पूरी एहतियात बरते।

इस्‍लामाबाद (एजेंसी)। पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने देशवासियों को आगाह किया है कि यदि उन्‍होंने कोरोना महामारी के प्रति लापरवाही दिखाई तो देश में इतने मामले होंगे कि जिसको संभाल पाना भी मुश्किल हो जाएगा। देशवासियों को दिए अपने एक संदेश में उन्‍होंने कहा कि कोरोना से बचाव का केवल एक ही तरीका है। वो ये कि इसको लेकर पूरी एहतियात बरतें। मुंह पर मास्‍क लगाएं और भीड़-भाड़ वाली जगहों पर जाने से परहेज करें। एक दूसरे से दूरी बनाए रखें और हाथ और मुंह को साबुन से धोते रहें।

इमरान ने इस दौरान ये भी कहा कि उन्‍होंने पूरा एक साल सभी तरह की एहतियात बरतीं। इस दौरान न तो उन्‍होंने बाहर खाना खाया और न ही किसी से मिले। इस तरह से वो इतने समय तक इस महामारी की चपेट में आने से बचे रहे। लेकिन जैसे ही वो सीनेट चुनाव को लेकर लोगों के बीच गए तो एक दूसरे से दूरी बनाने का नियम काम नहीं कर सका। इस दौरान वो कई लोगों से मिले जिसका नतीजा हुआ की वो कोरोना पॉजीटिव हो गए।

पाकिस्‍तान के पीएम ने कहा कि देश की आर्थिक हालत ऐसी नहीं है कि फिर से जगह जगह लॉकडाउन लगाया जाए। ऐसा हुआ तो देश बर्बादी के कगार पर पहुंच जाएगा जिससे निकलना भी मुश्किल होगा। उन्‍होंने बेहद साफ शब्‍दों में लोगों से कहा कि यदि वो भी इस तरह की लापरवाही करेंगे तो कोरोना संक्रमितों की संख्‍या को सरकार बढ़ने से नहीं रोक सकेगी। वहीं देश की स्‍वास्‍थ्‍य सेवाएं इस आपात स्थिति का सामना नहीं कर सकेंगी। इसलिए सभी एहतियात बरतें।

गौरतलब है कि पाकिस्‍तान के पीएम ने कुछ दिन पहले ही खैबर पख्‍तूंख्‍वां में एक यूनिवर्सिटी के नए ब्‍लॉक का उदघाटन करते समय कहा था कि देश पर हजारों करोड़ का कर्ज है। इस कर्ज को काफी कुछ उतार दिया गया है लेकिन अब भी देश पर इतना कर्ज बकाया है। कर्ज चुकाने के लिए भी पाकिस्‍तान को कर्ज लेना पड़ा है। उन्‍होंने इस बात को भी स्‍वीकार किया था कि इस दौरान बढ़ती महंगाई ने हर किसी का खेल खराब कर दिया है। साथ ही उन्‍होंने कहा था कि आर्थिक रूप से कमजोर होने की वजह से सरकार स्‍वास्‍थ्‍य सेवाओं और शिक्षा पर खर्च नहीं कर पा रही है।

आपको बता दें कि पिछले दिनों ही इमरान खान कोविड-19 टेस्‍ट में पॉजीविट पाए गए थे। उनके अलावा उनकी पत्‍नी भी इससे संक्रमित हैं। पीएम के विशेष सहायक ने बताया है कि इमरान खान कुछ दिनों के बाद अपना काम दोबारा शुरू कर देंगे। उन्‍होंने ये भी बताया कि इमरान की रिकवरी तेजी से हो रही है। आपको बता दें कि पाकिस्‍तान के राष्‍ट्रपति आरिफ अल्‍वी और रक्षा मंत्री भी कोरोना पॉजीटिव हो गए हैं। इसकी जानकारी उन्‍होंने ट्वीट कर दी है।

पाकिस्‍तान के अखबार द डॉन के मुताबिक उन्‍होंने अब तक कोरोना वैक्‍सीन की केवल एक ही खुराक ली है। जबकि शरीर में दूसरी खुराक के बाद एंटीबॉडीज बननी शुरू होती हैं। देश की प्रथम महिला ने लोगों से अपील की है कि वो वैक्‍सीन से न घबराएं और इसको जरूर लें। पाकिस्‍तान में लगातार कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं। मौजूदा समय में पाकिस्‍तान में कोरोना संक्रमण के अब तक 659,116 मामले सामने आ चुके हैं। वहीं ठीक होने वालों की संख्‍या 598,197 हो चुकी है जबकि 14,256 मरीज संक्रमित होने के बाद दम तोड़ चुके हैं।