सहानुभूति के लिए व्हीलचेयर पर बैठी हैं ममता, बंगाल के युवाओं को व्हीलचेयर पकड़ने पर किया मजबूर

 

सिलीगुड़ी में भारतीय जनता युवा मोर्चा की ओर से निकाली गई रैली मैं शामिल समर्थक

 भारतीय जनता युवा मोर्चा सिलीगुड़ी जिला की ओर से गुरुवार को एक रैली निकाली गई। रैली के आगे व्हील चेयर पर एक युवा का पुतला बनाकर बैठाया गया था जिस पर लिखा था ममता के शासनकाल में युवाओं का यह हाल।

 संवाददाता, सिलीगुड़ी: भारतीय जनता युवा मोर्चा सिलीगुड़ी जिला की ओर से गुरुवार को एक रैली निकाली गई। रैली के आगे व्हील चेयर पर एक युवा का पुतला बनाकर बैठाया गया था जिस पर लिखा था ममता के शासनकाल में युवाओं का यह हाल। इस अद्भुत रैली को देखने के लिए सड़क के दोनों किनारे बड़ी संख्या में लोग जमा हो गए थे।  रैली का नेतृत्व कर रहे भारतीय जनता युवा मोर्चा के जिलाध्यक्ष कंचन देवनाथ ने कहा कि यह व्हीलचेयर रैली ममता बनर्जी का उपहास उड़ाने के लिए नहीं बल्कि उन्हें बंगाल के युवाओं का असली चेहरा दिखाने के लिए की गई है। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी विधानसभा चुनाव के पहले सहानुभूति बटोरने के लिए व्हील चेयर पर बैठ गई हैं। वह अपने ऊपर जानलेवा हमला तथा पूर्व किए गए हमलों का जिक्र करते हैं।

बंगाल के युवाओं के संबंध में पिछले 10 वर्षों में चिंता की है। आज बंगाल का युवा बेरोजगारी के आग में इस प्रकार झुलस गया है कि उन्हें या तो आत्महत्या करने पर मजबूर होना पड़ रहा है या फिर वह एक दिव्यांग की तरह व्हीलचेयर पर बैठकर परिवार का बोझ बन गया है। इस रैली के माध्यम से बंगाल के सभी मतदाताओं को यह आह्वान करने आए हैं कि बंगाल के युवाओं का भविष्य देखते हुए इस परिवर्तन के आंधी में वह भाजपा के साथ जुड़े। केंद्र मैं जिस प्रकार भारतीय जनता पार्टी का हाथ मजबूत किए हैं उसी प्रकार राज्य में भारतीय जनता पार्टी को मजबूत कर विकास के पथ पर डबल इंजन की सरकार लाएं। डबल इंजन की सरकार आने से यहां शिक्षा स्वास्थ्य युवाओं का रोजगार तथा युवाओं का पलायन पूरी तरह रुक पाएगा। कोई भी युवा अपने परिवार को छोड़कर दूसरे राज्यों में दवाई पढ़ाई और कमाई के लिए दर बदर की ठोकरें नहीं खाएगा।

भारतीय जनता पार्टी के जिलाध्यक्ष प्रवीण अग्रवाल ने रैली में शामिल होते हुए कहा कि आज भी मां माटी मानुष की सरकार विकास के पथ की बात नहीं करती। लगातार हिंसा के बल पर सत्ता में आने के लिए पुलिस और असामाजिक तत्वों का गलत इस्तेमाल कर रही है। चुनाव आयोग के इतनी शक्ति के बावजूद जिस प्रकार दक्षिण और उत्तर बंगाल में हिंसा का दौर थम नहीं रहा है इससे मतदाताओं में भय का माहौल है।

भारतीय जनता पार्टी मतदाताओं को आश्वस्त करना चाहती है कि मतदाता अपनी शक्ति को पहचाने और ऐसे लोगों का खुद संगठित होकर विरोध करें। युवा मोर्चा की रैली हाशमी चौक से प्रारंभ होकर हिलकार्ट रोड सेवक रोड विधान रोड पानी टंकी होते हुए पुनः पार्टी कार्यालय हाशमी चौक के निकट संपन्न हो गया। रैली में तृणमूल कांग्रेस द्वारा खेला होवे स्लोगन को विकास शिक्षा स्वास्थ्य और रोजगार से जोड़कर खेला होगे का नारा लगाया जा रहा था। रैली में अन्य नेताओं में शंकर घोष राजू पाल राजू शाह सौरव सरकार विक्रमादित्य मंडल अरिजीत दास निम बनिक अनन्या सरकार आदि शामिल थे।