अमेरिका ने अफगानिस्तान में इमारतों व वाहनों पर बर्बाद किए अरबों डॉलर

अमेरिका ने अफगानिस्तान में इमारतों व वाहनों पर बर्बाद किए अरबों डॉलर

अमेरिकी सरकार की रिपोर्ट ज्यादातर इमारतें और वाहन तबाह। अमेरिकी एजेंसी के अनुसार वर्ष 2008 से अमेरिका ने अफगानिस्तान में इमारतों और वाहनों पर 7.8 अरब डॉलर (करीब 57 हजार करोड़ रुपये) खर्च किए। एजेंसी के विशेष महानिरीक्षक जॉन एफ सोप्को ने दी जानकारी।

इस्लामाबाद, एपी। अमेरिकी सरकार की एक एजेंसी ने अफगानिस्तान में इमारतों और वाहनों पर खर्च की गई रकम पर रिपोर्ट जारी की है। इस रिपोर्ट के अनुसार, अमेरिका ने युद्ध प्रभावित इस देश में इमारतों और वाहनों पर अरबों डॉलर बर्बाद किए हैं। ज्यादातर इमारतें और वाहन तबाह हो गए हैं या बेकार पड़े हैं।

अमेरिकी एजेंसी के अनुसार, वर्ष 2008 से अमेरिका ने अफगानिस्तान में इमारतों और वाहनों पर 7.8 अरब डॉलर (करीब 57 हजार करोड़ रुपये) खर्च किए। इन खर्चो की समीक्षा में पाया गया कि इस धनराशि में से सिर्फ 34.32 करोड़ डॉलर (करीब ढाई हजार करोड़ रुपये) की लागत से निर्मित इमारतें और वाहन सही अवस्था में हैं। यह समीक्षा स्पेशल इंस्पेक्टर जनरल फॉर अफगानिस्तान रीकंस्ट्रक्शन या एसआइजीएआर की ओर से की गई है। यह एजेंसी विदेश में दीर्घकालीन युद्ध पर अमेरिकी करदाताओं की खर्च होने वाली रकम पर नजर रखती है। रिपोर्ट कहती कि अफगानिस्तान में इस्तेमाल के इरादे से इमारतों और वाहनों पर 7.8 अरब डॉलर में से सिर्फ 1.2 अरब डॉलर (करीब 8,800 करोड़ रुपये) खर्च किए गए थे। एजेंसी के विशेष महानिरीक्षक जॉन एफ सोप्को ने कहा, 'हकीकत यह है कि ज्यादातर इमारतों और वाहनों का इस्तेमाल तक नहीं हुआ। वे तबाह हो गए या बेकार पड़े हैं।'