इंडिगो की फ्लाइट में बच्ची का हुआ जन्म, बेंगलुरु से जयपुर जा रही उड़ान में मौजूद डॉक्टर को 'थैंक्यू कार्ड '


इंडिगो की फ्लाइट में बच्ची का हुआ जन्म
इंडिगो की एक उड़ान में सफर कर रही महिला ने बच्ची को जन्म दिया। यह उड़ान बेंगलुरु से जयपुर के लिए थी। जयपुर एयरपोर्ट को तत्काल डॉक्टर व एंबुलेंस की सुविधा का इंतजाम करने की सूचना दे दी गई।

बेंगलुरु, एएनआइ।  बेंगलुरु से जयपुर जा रही इंडिगो  की एक फ्लाइट में सवार महिला ने बच्ची को जन्म दिया। विमान में सवार गर्भवती महिला को सफर के दौरान प्रसव पीड़ा शुरू हो गई। हालात की गंभीरता को भांपते ही  विमान में मौजूद डॉक्टर व  क्रू मेंबर्स सक्रिय हुए और विमान में ही डिलीवरी कराने का फैसला किया। इसके बाद महिला ने एक बच्ची को जन्म दिया। जयपुर एयरपोर्ट को तत्काल डॉक्टर व एंबुलेंस की सुविधा का इंतजाम करने की सूचना दे दी गई। इंडिगो ने बयान जारी कर बताया  कि मां और बच्ची दोनों स्वस्थ हैं। 

फ्लाइट में संयोग से मौजूद थीं डॉक्टर

बच्ची की डिलीवरी में डॉक्टर सुबाहना नजीर ने मदद की जो संयोग से उसी फ्लाइट में सफर कर रहीं थीं (। जयपुर एयरपोर्ट पर डॉक्टर का स्वागत किया गया और जयपुर में इंडिगो स्टाफ ने उन्हें थैंक्यू कार्ड दिया। इंडिगो ने अपने इस काम में योगदान देने वाले अपने स्टाफ की सराहना की। बुधवार सुबह 5.45 बजे बेंगलुरू से रवाना हो यह फ्लाइट करीब सवा दो घंटे में सुबह 8 बजे जयपुर पहुंच गई।बच्ची की डिलीवरी में डॉक्टर सुबाहना नजीर (Dr Subahana Nazir) ने मदद की जो संयोग से उसी फ्लाइट में सफर कर रहीं थीं (। जयपुर एयरपोर्ट पर डॉक्टर का स्वागत किया गया और जयपुर में इंडिगो स्टाफ ने उन्हें थैंक्यू कार्ड दिया। इंडिगो ने अपने इस काम में योगदान देने वाले अपने स्टाफ की सराहना की। बुधवार सुबह 5.45 बजे बेंगलुरू से रवाना हो यह फ्लाइट करीब सवा दो घंटे में सुबह 8 बजे जयपुर पहुंच गई।

नीति आयोग के सदस्‍य डा. वीके पाल ने कहा

Corona India News: कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच पीएम मोदी ने राज्‍यों में वैक्‍सीन की बर्बादी पर नाराजगी जताई: डॉ. वीके पॉल

यह भी पढ़ें

इससे पहले भी सफर में हुआ है बच्चों का जन्म

ऐसा पहली बार नहीं हुआ है जब फ्लाइट में सफर के दौरान किसी बच्चे का जन्म हुआ है। इससे पहले अक्टूबर, 2020 में इंडिगो की ही दिल्ली से बेंगलुरु जा रही फ्लाइट में एक महिला ने बच्चे को जन्म दिया था। 2017 में भी इसी तरह से एक महिला ने जेट एयरवेज की फ्लाइट में बच्चे को जन्म दिया था। जेट एयरवेज ने तो उस बच्चे के लिए लाइफ टाइम फ्री टिकट का एलान भी किया था। इसी तरह एयर एशिया की फ्लाइट में 2009 में मलेशिया की एक महिला दुबई से मनिला जा रही थी और फ्लाइट में ही उसने एक बच्ची को जन्म दिया था। फिलिपिनो एयरलाइन की ओर से उस नवजात को 10 लाख एयरमाइल्स का उपहार दिया गया था। 

इससे पहले भी सफर में हुआ है बच्चों का जन्म

ऐसा पहली बार नहीं हुआ है जब फ्लाइट में सफर के दौरान किसी बच्चे का जन्म हुआ है। इससे पहले अक्टूबर, 2020 में इंडिगो की ही दिल्ली से बेंगलुरु जा रही फ्लाइट में एक महिला ने बच्चे को जन्म दिया था। 2017 में भी इसी तरह से एक महिला ने जेट एयरवेज की फ्लाइट में बच्चे को जन्म दिया था। जेट एयरवेज ने तो उस बच्चे के लिए लाइफ टाइम फ्री टिकट का एलान भी किया था। इसी तरह एयर एशिया की फ्लाइट में 2009 में मलेशिया की एक महिला दुबई से मनिला जा रही थी और फ्लाइट में ही उसने एक बच्ची को जन्म दिया था। फिलिपिनो एयरलाइन की ओर से उस नवजात को 10 लाख एयरमाइल्स का उपहार दिया गया था।