दो प्रेमियों के रहते महिला का तीसरे से चल रहा था चक्कर, जानें इसका खौफनाक अंजाम

 

Jharkhand Ramgarh Crime News हत्या के बाद महिला के शव की शिनाख्त उसके ससुर बुधन भुइंया ने की थी।
पुलिस ने बताया कि गैरवाटांड़ निवासी अनिता देवी की हत्‍या कुरसे जंगल पहाड़ में दो मार्च को की गई थी। हत्या के बाद महिला के शव की शिनाख्त उसके ससुर बुधन भुइंया ने की थी। वह दो मार्च से ही लापता थीं।

भुरकुंडा (रामगढ़), सं। रामगढ़ जिले के पतरातू थाना क्षेत्र में एक महिला का प्रेम-प्रसंग दो युवकों से चल रहा था। इसके बावजूद वह किसी तीसरे के साथ भी अपना चक्कर चला रही थी। यह बात उसके दोनों प्रेमियों को नागवार गुजरी और दोनों ने उसकी हत्या कर दी। शनिवार को इसका खुलासा हुआ। हत्या में शामिल दोनों आरोपितों को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। बता दें कि 13 मार्च को भदानीनगर ओपी क्षेत्र के कुरसे जंगल से अज्ञात महिला का शव बरामद किया गया था। पुलिस ने बताया कि गैरवाटांड़ निवासी अनिता देवी की कुरसे जंगल पहाड़ में दो मार्च को हत्या की गई थी। हत्या के बाद महिला के शव की शिनाख्त उसके ससुर बुधन भुइंया ने की थी। वह दो मार्च से ही लापता थीं।

भदानीनगर ओपी परिसर में शनिवार को प्रेस वार्ता में पतरातू एसडीपीओ डॉ. वीरेंद्र कुमार चौधरी ने मामले का खुलासा करते हुए बताया कि शव मिलने के बाद एसपी के नेतृत्व में जांच के लिए टीम गठित की गई थी। अनुसंधान के क्रम में महिला के मोबाइल का सीडीआर निकाला गया। इसमें हरिहरपुर निवासी धर्मवीर महतो व सुजीत महतो से बात होने का संकेत मिला। इसके बाद पुलिस ने दोनों को दबोच लिया। कड़ाई से पूछताछ में दोनों आरोपितों ने हत्या की बात स्वीकार कर ली।

दोनों आरोपितों ने पुलिस की पूछताछ में बताया कि हमदोनों से महिला का प्रेम-प्रसंग था। इसी बीच हमलोगों को पता चला कि उक्त महिला का किसी और से भी प्रेम संबंध चल रहा है। इसके बाद धर्मवीर व सुजीत दो मार्च को अनीता देवी को बहला फुसलाकर बाइक में बैठाकर कुरसे जंगल पहाड़ की ओर ले गए। वहां दोनों ने महिला के साथ दुष्कर्म किया और उसी के साड़ी के फंदे से गला दबा दिया। इसके बाद पत्थर से कूचकर उसकी हत्या कर दी। पुलिस ने बताया कि छापेमारी के दौरान बाइक (जेएच01डीएल-9439) सहित घटना में उपयोग किया गया पत्थर व दो मोबाइल भी बरामद किया गया है। प्रेस कांफ्रेंस में इंस्पेक्टर लिलेश्वर महतो व भदानीनगर ओपी प्रभारी सौरभ कुमार आदि शामिल थे।