हनीट्रैप में फंसा सेना का जवान, पाक महिला जासूस को देता था गुप्त जानकारी; राजस्थान के फतेहपुर में गिरफ्तार

हनीट्रैप में फंसा सेना का जवान, पाक महिला जासूस को देता था गुप्त जानकारी; राजस्थान में गिरफ्तार। फाइल फोटो

 पाकिस्तान की महिला एजेंट ने सोशल मीडिया के माध्यम से भारतीय सेना के एक जवान को अपने जाल में फंसाकर खुफिया जानकारी हासिल की। अपने जाल में फंसाने के लिए पाक महिला जवान से अश्लील बातें करती थी।

 संवाददाता, जयपुर।  सेना का एक जवान पाकिस्तान के हनीट्रैप में फंसा है। पाकिस्तान की महिला एजेंट ने सोशल मीडिया के माध्यम से जवान को अपने जाल में फंसाकर खुफिया जानकारी हासिल की। अपने जाल में फंसाने के लिए पाक महिला जवान से अश्लील बातें करती थी। इस महिला ने न्यूड होकर भी वॉट्सएप कॉल पर जवान से बात की और बातों में फंसाकर उससे सेना के बारे में गुप्त जानकारी हासिल की। राजस्थान में सीकर जिले के लक्ष्मणगढ़ निवासी जवान आकाश महरिया पुत्र हरदयाल अवकाश पर अपने गांव आया तो प्रदेश की इंटेलीजेंस एजेंसी के रडार पर आ गया। पिछले एक माह से उस पर नजर रखी जा रही थी। आखिरकार रविवार को जवान को गिरफ्तार कर लिया गया। उसे फतेहपुर में पकड़ा गया।

राजस्थान इंटेलीजेंस के अतरिक्त महानिदेशक उमेश मिश्रा ने बताया कि जवान ने सेना से जुड़ी कई महत्वपूर्ण जानकारियां महिला को दीं। उसके खिलाफ ऑफिशियल सीक्रेट एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। सीकर के पुलिस अधीक्षक शांतनु कुमार ने बताया कि आकाश महरिया फेक नाम से बनी एक फर्जी फेसबुक आईडी से जुड़ा हुआ था। यह आईडी पाकिस्तानी महिला जासूस की थी, जिसने उसे अपने जाल में फंसाया था। वह 17 फरवरी को एक माह के अवकाश पर अपने गांव आया था। जवान को अपने जाल में फंसाने के लिए महिला कपड़े उतारकर उससे बातें करती और सेना के बारे में जानकारी लेती थी । उसके जाल में फंसकर वह उसके साथ लगातार बातचीत करने लगा। गांव आया तो इंटेलीजेंस एजेंसी को सीकर जिले में पाकिस्तान से कॉल आने की जानकारी मिली। इस पर छानबीन की गई तो जवान का नाम सामने आया, उसके बाद से लगातार उस पर नजर रखी जाने लगी। जवाान फतेहपुर में शिवरात्रि मेले में गया हुआ था। उसी दौरान उसके पास फोन आया तो इंटेलीजेंस एजेंसी व पुलिस ने उसे पकड़ लिया, दो दिन तक लगातार पूछताछ की गई और आखिरकार रविवार को अधिकारिक रूप से उसे गिरफ्तार कर लिया गया। उसे कोर्ट में पेश कर पांच दिन के रिमांड पर लिया गया। अब पूछताछ के बाद और खुलासा होने की उम्मीद है। आकाश महरिया सितंबर, 2018 में सेना में भर्ती हुआ था।