भाजपा को यहां से विदा कर दो, हम मोदी का चेहरा नहीं देखना चाहते : ममता

 Facebook

पूर्वी मिदनापुर में जनसभा को संबोधित करती पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी

ममता बनर्जी मुख्यमंत्री ने कहा कि हम भाजपा को अलविदा कह रहे हैं हम नहीं चाहते भाजपा को। हम मोदी का चेहरा भी नहीं देखना चाहते। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी मुख्यमंत्री ने कहा कि हम दंगा लूट दुर्योधन दुशासन मीर जाफर नहीं चाहते हैं।

राज्य ब्यूरो,  कोलकाता ।  बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शुक्रवार को पूर्व मेदिनीपुर में रैली को संबोधित करते हुए भाजपा पर जमकर निशाना साधा और यहां तक कहा कि वह पीएम नरेंद्र मोदी का चेहरा नहीं देखना चाहती हैं। ममता ने लोगों से अपील की कि भाजपा को वोट ना देकर विदा कर दिया जाए। मुख्यमंत्री ने कहा-भाजपा को वोट देने का मतलब विनाश तथा तृणमूल को वोट देने का मतलब विकास। ममता बनर्जी ने कहा, ''हम दंगा, लुटेरा, दुर्योधन और दुःशासन,  मीरजाफर नहीं चाहते हैं।'' 

ममता ने कहा कि भाजपा ने टीएमसी से बगावत करने वालों को विधानसभा चुनाव में टिकट दिये। पार्टी के पुराने नेता घर में बैठकर आंसू बहा रहे हैं। पैर की चोट को खुद पर हमला बताते हुए ममता ने कहा, ''पहले मेरे विरोधियों ने मेरे सिर में चोट मारी और अब मेरा पैर घायल कर दिया, लेकिन मैं भी योद्धा हूं।'' बंगाल चुनाव में धांधली की आशंका जताई

-मुख्यमंत्री ने भाजपा से दूर रहने की अपील करते हुए कहा कि भगवा पार्टी यदि सत्ता में आएगी तो यहां लूट और दंगे होंगे। यही नहीं, ममता ने कहा कि मतदान के दौरान भाजपा धांधली कर सकती है, इसलिए टीएमसी कार्यकर्ताओं को सावधान रहने की जरूरत है। 

बंगाल में कभी एनआरसी लागू नहीं होने देंगे

तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ममता बनर्जी  ने साफ कर दिया कि बंगाल में कभी भी  एनआरसीलागू होने नहीं देंगे। भाजपा की सरकार के पास एनपीआर और एनआरसी कार्ड है। यदि आप अपने गांव में नहीं रहेंगे, तो परिवार का नाम हटा दिया जाएगा।भारतवर्ष के कई राज्य एनपीआर का काम शुरू हुआ है, लेकिन बंगाल में शुरू नहीं करने दिए हैं।

गुंडों को घुसने नहीं दें

ममता बनर्जी ने कहा कि यदि गुंडा आये, तो उसने घुसने नहीं देंगे। उन्हें मार भगाये। हमें अपनी पुलिस पर पूरा भरोसा है। अत्याचारी और दुराचारी भाजपा को भी वोट नहीं देंगे। उत्तर प्रदेश में बीजेपी की सरकार है। एक युवती कोर्ट में गवाही देने गई, तो उसे जला दिया गया। उसके पिता को मार दिया गया। कोई विचार नहीं होता है।