डिजिलॉकर से जोड़े जाएंगे ओटीपीआरएमएस प्रमाण पत्र, शिक्षा मंत्रालय के फैसले से जानें क्‍या होगा लाभ

 Facebook

केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय ने प्रमाण पत्रों को डिजिलॉकर से जोड़ने का फैसला किया है।

केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय ने प्रमाण पत्रों को डिजिलॉकर से जोड़ने का फैसला किया है। केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने सत्यापित ऑनलाइन शिक्षक छात्र पंजीकरण प्रबंधन प्रणाली  प्रमाण पत्रों को डिजिलॉकर के साथ जोड़ने की घोषणा की।

नई दिल्‍ली, एजेंसियां। केंद्रीय शिक्षा मंत्रालयने प्रमाण पत्रों को डिजिलॉकर से जोड़ने का फैसला किया है। समाचार एजेंसी आइएएनएस के मुताबिक केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय की इस पहलकदमी से पंजीकरण शुल्क माफ हो जाएगा। केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने रविवार को सत्यापित ऑनलाइन शिक्षक छात्र पंजीकरण प्रबंधन प्रणालीप्रमाण पत्रों को डिजिलॉकर के साथ जोड़ने की घोषणा की।  

केंद्रीय शिक्षा मंत्री  ने यह भी बताया कि इसके लिए किसी भी प्रकार का शुल्क नहीं देना होगा। निशंक ने ट्वीट कर कहा- ओटीपीआरएमएस प्रमाण पत्र तक व्यवधान रहित पहुंच सुनिश्चित करने के लिए शिक्षा मंत्रालय ने प्रमाण पत्रों को डिजिलॉकर से जोड़ने का फैसला किया है। अब छात्रों को जारी किए जाने वाले प्रमाण पत्र स्वतः ही डिजिलॉकर में सुरक्ष‍ित कर लिए जाएंगे। राष्ट्रीय अध्यापक शिक्षा परिषद की वेबसाइट पर जाकर प्रमाणपत्रों को देखा जा सकता है।केंद्रीय शिक्षा मंत्री  ने बताया कि डिजिलॉकर एप को एंड्रॉएड और आईफोन पर भी डाउनलोड किया जा सकता है। यही नहीं एनसीटीई की ओर से जारी ओटीपीआरएमएस प्रमाण पत्र हासिल करने के लिए 200 रुपए का पंजीकरण शुल्क भी माफ कर दिया गया है। उन्‍होंने बताया कि इससे बड़ा लाभ होगा। साथ ही लोगों को कारोबारी सुगमता के साथ डिजिटल रूप से सशक्त बनाने में मदद मिलेगी। 

मालूम हो कि डिजिलॉकर ऐसी प्रणाली है जहां दस्तावेजों को डिजिटल फॉर्मेट के तौर पर सुरक्ष‍ित रखा जा सकता है। इसका बड़ा फायदा यह भी है कि कहीं भी सॉफ्ट कॉपी को इस्‍तेमाल में लाया जा सकता है। इस सुविधा का लाभी मोबाइल फोन के जरिए कहीं भी उठाया जा सकता है। सीबीएसई की ओर से भी सीटीईटी जनवरी 2021 परीक्षा के मार्कशीट और क्वालिफाइंग सर्टिफिकेट्स डिजिलॉकर पर अपलोड किए जाएंगे। CTET 2021 में उत्तीर्ण उम्‍मीदवार अपने सर्टिफिकेट और मार्कशीट डिजिलॉकर से डाउनलोड कर सकेंगे।