नेहा सिंह राठौर का लोकगीत वाला तड़का, ममता को बताया बंगाल का काल ...

 

 

पश्चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी एवं बिहार की लोक गायिका नेहा सिंह राठोर। फाइल तस्‍वीरें।

बिहार की लोक गायिका नेहा सिंह राठौर ने पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी को घेरता लोकगीत गाया है। इसमें उन्‍होंने ममता को बंगाल का काल तक बता दिया है। नेहा इसके पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी निशाना बना चुकीं हैं।

पटना, बिहार ऑनलाइन डेस्‍क। बिहार विधानसभा चुनाव  के वक्‍त का 'बिहार में का बा...' लोकगीत गाकर सुर्खियों में रहीं बिहार की लोक गायिका नेहा सिंह राठौर अब पश्चिम बंगाल चुनाव  के मैदान में तृणमूल कांग्रेस  अध्‍यक्ष व मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी  के खिलाफ ताल ठोक रहीं हैं। चुनाव के साथ होली  का भी माहौल है, इसलिए उनके नए चुनावी लोकगीत  में दोनों के रंग हैं। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर तंज कसते हुए अपने लोकगीत में नेहा ममता बनर्जी को 'बंगाल का काल' बताती हैं। साथ ही भारतीय जनता पार्टीका 'राम का मुद्दा' भी उठा रहीं हैं।

सत्ता विरोधी लोक गीतों के लिए जानी जाती हैं नेहा

वि दित हो कि नेहा सिंह राठौर अपने कटाक्ष करते सत्ता विरोधी लोक गीतों के लिए जानी जाती हैं। ज्‍यादा दिन नहीं हुए, जब नेहा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी उनकी दाढ़ी को लेकर अपने गाने के माध्यम से घेरा था। बिहार विधानसभा चुनाव के दौरान भी उन्‍होंने बिहार में गरीबी, बेरोजगारी व भुखमरी को केंद्र में रखकर राज्‍य की नीतीश कुमार  की सरकार को निशाने पर लिया था।

ममता बनर्जी पर क्‍या है नेहा के लोकगीत में, जानिए

नेहा का नया लोकगीत होली के मूड में तथा ममता बनर्जी को केंद्र में रखकर है। वे कहतीं हैं- 'दीदी बंगाल के होई गैलू तू काल, बोलो सा रा रा रा...। बांग्लादेसियन के स्वर्ग बंगाल, अपने लोगन के कैलू कंगाल, बोलो सा रा रा रा...। नेहा के गीत में आगे ममता बनर्जी के गुस्‍सा पर कटाक्ष हैं- 'दीदी नाके पे गुस्‍सा, काटेलू बवाल, बोलो सा रा रा रा...। गाने में ममता बनर्जी को तानाशाह भी बताया गया है। यह भी कहा गया है कि बंगाल की जनता उनकी रंगाबजी से परेशान है।

नेहा के गीत में शामिल है भगवान राम का भी मुद्दा

नेहा के गीत में बीजेपी के एजेंडा भगवान राम का मुद्दा भी उठाती हैं। ममता को घेरते हुए फरमातीं हैं- 'खाली दाल-भात से दाल ना गली, हमरे राम के विरोध तोहरा ना फली, बोलो सा रा रा रा...। विदित हो कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह लगातार कहते रहे हैं कि पश्चिम बंगाल में राम का नाम लेना मुश्किल हो गया है।

गीत से बिहार चुनाव के वक्‍त खड़ा हुआ था विवाद

इसके पहले नेहा सिंह राठौर बिहार विधानसभा चुनाव के वक्‍त विवादों में आईं थीं। तब बिहार में विकास के मुद्दे को घेरते हुए उनका गीत 'बिहार में का बा...' वायरल हो गया था। नेहा के गीत को विपक्षी महागठबंधन ने हथियार बनाकर राष्‍ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन  को निशाने पर लिया था। उधर, भारतीय जनता पार्टी ने भी 'बिहार में ई बा... गाना से पलटवार किया था।  बीजेपी ने जवाब में कई वीडियो बनाए थे।