रिश्वत लेने के मामले में अपने तीन अधिकारियों के खिलाफ दायर की चार्जशीट

CBI ने रिश्वत लेने के मामले में अपने तीन अधिकारियों के खिलाफ दायर की चार्जशीट

सीबीआइ ने अपने डीएसपी आरके रिषी और आरके सांगवान इंस्पेक्टर कपिल धनखड़ और एक वकील के खिलाफ मामला दर्ज किया है। ये लोग एजेंसी के अंदर ही रिश्वतखोरी का एक तंत्र बनाकर काम कर रहे थे। तीनों अधिकारियों को जनवरी में गिरफ्तार किया गया था।

नई दिल्ली, प्रेट्र। सीबीआइ ने रिश्वत लेने के मामले में गिरफ्तार अपने तीन अधिकारियों के खिलाफ चार्जशीट दायर की है। इन अधिकारियों पर 4,300 करोड़ रुपये से ज्यादा की बैंक धोखाधड़ी के मामलों में जांच में राहत के बदले रिश्वत लेने का आरोप है।

सीबीआइ ने अपने डीएसपी आरके रिषी और आरके सांगवान, इंस्पेक्टर कपिल धनखड़ और एक वकील के खिलाफ मामला दर्ज किया है। ये लोग एजेंसी के अंदर ही रिश्वतखोरी का एक तंत्र बनाकर काम कर रहे थे। तीनों अधिकारियों को जनवरी में गिरफ्तार किया गया था। स्टेनोग्राफर समीर कुमार भी इस मामले में आरोपित है। रिश्वत के इस मामले में श्री श्याम पल्प एंड बोर्ड मिल्स के एडिशनल डायरेक्टर मनदीप कौर ढिल्लों और फ्रॉस्ट इंटरनेशनल के निदेशकों सुजय देसाई व उदय देसाई के नाम भी एफआइआर में हैं।

अधिकारियों ने बताया कि स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के मैनेजर धनखड़ को इंस्पेक्टर के रूप में प्रतिनियुक्ति पर एजेंसी में भेजा गया था। उसने रिषी और सांगवान के साथ मिलकर 700 करोड़ रुपये के लोन डिफॉल्ट का सामना कर रही श्री श्याम पल्प और 3,600 करोड़ के लोन डिफॉल्ट का सामना कर रही फ्रॉस्ट इंटरनेशनल से रिश्वत ली।