सुशील पंडित को मिली जान से मारने की धमकी पर अमेरिका स्थित कश्मीरी समुदाय चिंतित

सुशील पंडित को मिली जान से मारने की धमकी पर अमेरिका स्थित कश्मीरी समुदाय चिंतित। फाइल फोटो।

अमेरिका स्थित कश्मीरी समुदाय ने मानवाधिकार कार्यकर्ता सुशील पंडित को मिली जान से मारने की धमकी पर चिंता व्यक्त की है। उन्होंने भारत सरकार से हत्या की साजिश के पीछे जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने का आग्रह किया है।

वाशिंगटन, एजेंसी। अमेरिका स्थित कश्मीरी समुदाय ने मानवाधिकार कार्यकर्ता सुशील पंडित को मिली जान से मारने की धमकी पर चिंता व्यक्त की है। उन्होंने भारत सरकार से हत्या की साजिश के पीछे जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने का आग्रह किया है। पंडित एक मानवाधिकार कार्यकर्ता होने के साथ हाइव कम्युनिकेशंस इंडिया प्राइवेट लिमिटेड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी हैं। पंडित को मारने के लिए आए दो बदमाशों को दिल्ली पुलिस ने शनिवार को गिरफ्तार किया था। 

इंडो-अमेरिकन कश्मीरी फोरम (आइएकेएफ) ने रविवार को एक बयान में कहा कि सुशील पंडित को मारने के लिए आए दो लोगों के पकड़ने जाने से एक बार फिर यह साबित हो गया है कि समुदाय के व्यक्तियों का जीवन और सुरक्षा खतरे में है। दिल्ली पुलिस ने भले ही सुशील पंडित की हत्या की साजिश नाकाम कर दी हो, लेकिन इसने एक बार फिर यह साबित कर दिया है कि कश्मीरी समुदाय से जुड़े लोग अभी भी सुरक्षित नहीं है। कश्मीरी पंडितों की घाटी में सुरक्षित वापसी के लिए वर्ष 1991 में आइएकेएफ की स्थापना की गई थी। आइएकेएफ ने हत्या की साजिश को नाकाम करने के लिए दिल्ली पुलिस को धन्यवाद भी दिया।

गौरतलब है कि दो दिन पूर्व मानवाधिकार कार्यकर्ता और कश्मीरी एक्टिविस्ट सुशील पंडित की हत्या की साजिश को दिल्‍ली पुलिस ने नाकाम कर दिया था। इस बाबत पुलिस ने दो भाड़े के हत्यारों को गिरफ्तार किया है। बरामद हथियारों में दो स्टार पिस्टल पाकिस्तान निर्मित हैं। बदमाशों ने सुनील पंडित की हत्या के लिए 10-10 लाख रुपये में सौदा किया था। आशंका है कि यह साजिश पड़ोसी देश में रची गई थी। फिलहाल जांच दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल को सौंप दी गई है। आरोपियों के पास से बरामद एक मोबाइल फोन में सुशील पंडित की फोटो मिली है।दिल्‍ली पुलिस ने बताया कि द‍िल्‍ली के आरके पुरम थाना पुलिस को बदमाशों के इलाके में मौजूद होने की सूचना मिली थी। इसके बाद पुलिस ने दोनों आरोपियों को वेंकटेश्वर मार्ग, आरके पुरम से गिरफ्तार किया। पूछताछ के दौरान दोनों ने बताया कि वे सुशील पंडित की हत्या के लिए दिल्ली आए हैं तो पुलिस के होश उड़ गए। इन दोनों को प्रिंस उर्फ टुट्टी ने सुपारी दी थी।