अमित शाह आज शाम जारी करेंगे भाजपा का घोषणा पत्र

 

अमित शाह जारी करेंगे भाजपा का घोषणा पत्र। फाइल फोटो

 केंद्रीय गृहमंत्री व भाजपा नेता अमित शाह रविवार शाम कोलकाता में पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव 2021 के लिए भाजपा का घोषणा पत्र जारी करेंगे। इससे पहले पूर्व मेदिनीपुर जिले के एगरा में चुनावी रैली में अमित शाह ने ममता सरकार पर फिर करारा हमला बोला।

कोलकाता, राज्य ब्यूरो।  केंद्रीय गृहमंत्री व भाजपा नेता अमित शाह रविवार शाम कोलकाता में पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव 2021 के लिए भाजपा का घोषणा पत्र जारी करेंगे। इससे पहले पूर्व मेदिनीपुर जिले के एगरा में चुनावी रैली में अमित शाह ने ममता सरकार पर फिर करारा हमला बोला। अमित शाह ने ममता बनर्जी पर राज्य में घुसपैठ को बढ़ावा देने का आरोप लगाते हुए कहा कि हम पांच साल में बंगाल को घुसपैठियों से मुक्त कर देंगे। उन्होंने ममता बनर्जी पर निशाना साधते हुए कहा कि दीदी ने 'मां, माटी, मानुष ’का नारा दिया लेकिन क्या बदलाव आया? क्या वह आपको घुसपैठियों से मुक्ति दिला पाईं? हम पांच साल में बंगाल को घुसपैठियों से मुक्त बनाएंगे। कटमनी, तोलाबाजी व तुष्टीकरण से मुक्ति दिलाएंगे।

अमित शाह बोले, टीएमसी के गुंडों का बख्शा नहीं जाएगा

अमित शाह ने कहा कि राज्य में हमारे 130 से ज्यादा कार्यकर्ताओं को मार दिया गया। तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के गुंडों को यह नहीं सोचना चाहिए कि उन्हें बख्शा जाएगा। दो मई को टीएमसी के गुंडों के दिन में तारे दिखेंगे। गृह मंत्री ने कहा कि बंगाल में भाजपा की सरकार बनने पर हमारे कार्यकर्ताओं की की हत्या करने वालों को हम पताल से भी ढूंढकर सजा दिलाएंगे। अमित शाह ने कहा कि ममता दीदी परिवर्तन का नारा देकर भूल गईं। बंगाल की जनता ने अब सत्ता से ममता सरकार को बाहर करने का मन बना लिया है और दो मई को तृणमूल की विदाई तय है। भाजपा की सरकार बनते ही आपको केंद्र की सभु योजनाओं का पूरा फायदा मिलेगा। अमित शाह ने कहा, ममता दीदी भतीजे को बंगाल का सीएम बनाना चाहती हैं और मोदी बंगाल को सोनार बांग्ला बनाना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि यहां के सरकारी कार्मचारियों को सातवां वेतन आयोग नहीं मिलता है। हमने तय किया है कि सरकार बनते ही सातवां वेतन आयोग का फायदा दिलाएंगे। अमित शाह ने कहा कि भाजपा की सरकार बनने पर यहां के मछुआरों को हम हर साल 6000 रुपये देंगे।

अमित शाह की मौजूदगी में सुवेंदु अधिकारी के पिता शिशिर अधिकारी ने थामा भाजपा का दामन

बंगाल में विधानसभा चुनाव को लेकर सियासी पारा अपने चरम पर है। इस बीच मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को रविवार को एक और बड़ा झटका लगा। कद्दावर नेता सुवेंदु अधिकारी के पिता व तृणमूल कांग्रेस के वरिष्ठ सांसद शिशिर अधिकारी भी इस दिन केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की मौजूदगी में भाजपा में शामिल हो गए।तृणमूल के असंतुष्ट सांसद शिशिर ने कई सप्ताह से जारी अटकलों को विराम देते हुए पूर्व मेदिनीपुर जिले के एगरा में शाह की चुनावी रैली के दौरान मंच साझा करते हुए भाजपा का दामन थामा। इससे पहले पूर्व तृणमूल नेता सुवेंदु अधिकारी भी अमित शाह की ही मौजूदगी में पिछले साल 19 दिसंबर को मेदिनीपुर में आयोजित रैली के दौरान भाजपा का झंडा थामा था। शिशिर अधिकारी पूर्व मेदिनीपुर के कांथी से सांसद हैं। इस मौके पर शिशिर ने कहा कि उन्होंने तृणमूल में जगह बनाने के लिए कठिन परिश्रम किया लेकिन उन्हें और उनके बेटों के साथ जैसा व्यवहार किया गया उससे उन्हें पार्टी बदलने पर मजबूर होना पड़ा।

शिशिर अधिकारी ने तृणमूल कांग्रेस पर साधा निशाना

लोकसभा सदस्य शिशिर अधिकारी ने कहा, “तृणमूल से जिस प्रकार हमारे परिवार को निकाला गया वह हमेशा इतिहास में दर्ज रहेगा। हम बंगाल में राजनीतिक हमलों और अत्याचार के खिलाफ खड़े होंगे। हम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह के साथ काम करेंगे।” इसके साथ ही उन्होंने ‘जय श्री राम’ और ‘भारत माता की जय’ के नारे भी लगाए। शिशिर ने यह भी दावा किया कि उनके बेटे सुवेंदु अधिकारी नंदीग्राम में ममता बनर्जी को हराने में सफल होंगे। उन्होंने कहा कि यह चुनाव उनके आत्मसम्मान की लड़ाई है। मेदिनीपुर के सम्मान को बचाने की लड़ाई है। उन्होंने कहा कि इस बार बंगाल में भाजपा की जीत होगी और तृणमूल का सफाया होगा।बता दें कि पूर्व मेदिनीपुर सहित आसपास के जिलों में अधिकारी परिवार का खासा राजनीतिक दबदबा है। वहीं, भाजपा सूत्रों ने बताया कि शिशिर के एक और बेटे दिव्येंदु भी जल्द भाजपा में शामिल हो सकते हैं। दिव्येंदु तमलुक से तृणमूल के सांसद हैं। इससे पहले सुवेंदु के बाद उनके एक और बेटे सौमेंदु अधिकारी भाजपा का दामन थाम चुके हैं।

शिशिर अधिकारी के भाजपा में शामिल होते ही ममता ने फिर बताया गद्दार

इधर, शिशिर अधिकारी के अमित शाह की मौजूदगी में भाजपा में शामिल होने के तुरंत बाद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने करारा हमला बोलते हुए अधिकारी परिवार को फिर गद्दार बताया। पूर्व मेदिनीपुर जिले में ही रैली को संबोधित करते हुए ममता ने कहा कि करोड़ों-करोड़ों लूटने वाले गद्दार सब पार्टी छोड़ कर चले गए हैं। यह अच्छा ही हुआ।