हार्ड और सॉफ्ट स्किल की ट्रेनिंग प्राप्त करके इस Management Institute के छात्रों को एनालिटिक्स

हाल ही में इन कंपनियों को जॉइन करने वाले छात्रों को औसत CTC 6.75 दिया गया है।

जिन बड़ी कंपनियों ने जयपुरिया के छात्रों के हुनर को पहचाना है और उन्हें 2021 मे जॉब्स दी है उनमें शामिल हैं ICICI बैंक डेलॉयट HCL आदित्य बिरला फैशन IDFC बैंक Delhivery Ernstyoung टाटा पॉवर हिंदुस्तान यूनिलीवर रिलायंस इंडस्ट्रीज डाबर मैरिको लीना AI और ग्लोबल डेटा रिसर्च।

बीते एक दशक में टेक्नोलॉजी ने सोचने और काम करने के तरीकों को बदल दिया है। आज हर कंपनी और हर बिजनेस के लिए टेक्नोलॉजी जरूरी और महत्वपूर्ण हो चुकी है, क्योंकि ग्राहक और यूजर्स स्मार्टफोन व कंप्यूटर पर आ चुका है, इसलिए बिना ऐप और वेबसाइट के आज बिजनेस करने के बारे में सोचा नहीं जा सकता। बदलती टेक्नोलॉजी की वजह से आज कंपनियों में नए तरीके के जॉब्स भी निकल रहे हैं, जैसे बिजनेस एनालिटिक्स, डेटा एनालिटिक्स, डिजाइन थिंकिंग, डिजिटल मार्केटिंग आदि। एक्सपर्ट की माने तो इंटरनेट और इंटरनेट डेटा से जुड़े जॉब्स की बहुत ज्यादा मांग है और आगे भी रहने वाली है। PGDM या MBA करने वाले जो छात्र इस क्षेत्र में अपने हुनर को विकसित कर रहे हैं, उन्हें कंपनियों में बड़े पोस्ट के साथ बड़ा पैकेज मिल रहा है। ऐसे में डेटा से जुड़े जॉब्स को प्राप्त करने के लिए छात्रों को ऐसे शैक्षणिक संस्थान या कॉलेज से जुड़ना चाहिए, जो उन्हें बेहतर ट्रेनिंग दे सके।

PGDM प्रोग्राम के जरिए छात्रों को भविष्य के लिए तैयार करने की बात आती है, तो वहां Jaipuria Institute of Management का नाम जरूर आता है। लगभग 25 सालों का इतिहास लिए उत्तर भारत के इस बड़े इंस्टीट्यूट का मैनेजमेंट शिक्षा के क्षेत्र में गहरा अनुभव है। बदलती टेक्नोलॉजी और कंपनी की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए जयपुरिया ने समय-समय पर अपनी शिक्षा नीतियों में बदलाव किया है, जिससे कि छात्रों को जॉब्स पाने में परेशानी ना हो और उन्हें आसानी से प्लेसमेंट मिल जाए। यही वजह है कि यहां पढ़ने वाले छात्र इसके वर्ल्ड क्लास फैकल्टी पर गर्व करते हैं।

मैनेजमेंट के क्षेत्र में जयपुरिया शिक्षा संस्थान क्यों लोकप्रिय है, यह जानने के लिए विभिन्न सरकारी एजेंसियों से मिली इसे मान्यता और इसके प्लेसमेंट रिकॉर्ड से समझा जा सकता है। जयपुरिया देश के उन कुछ शैक्षणिक संस्थानों में शामिल है, जिन्हें AICTE ग्रेडेड ऑटोनॉमी (Graded Autonomy) की मान्यता मिली हुई है। यह मान्यता उन्हीं संस्थाओं को मिलती है, जो विभिन्न सुविधाओं के साथ छात्रों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा देते हैं। बात करें B-School रैंकिंग की तो जयपुरिया के तीन  इंस्टीट्यूट शिक्षा मंत्रालय द्वारा जारी NIRF 2020 रैंकिंग में शीर्ष 100 में शामिल हैं। यही नहीं, संस्थान को NAAC द्वारा 'ए' ग्रेड संस्थान के रूप में भी दर्जा दिया गया है।

Jaipuria Institute of Management के पास 100% क्वालिटी प्लेसमेंट के साथ संचालन का एक बेदाग रिकॉर्ड है। PGDM प्रोग्राम करने वाले यहां छात्रों को इस तरह की हार्ड और सॉफ्ट स्किल की ट्रेनिंग दी जाती है, जिससे कि वो प्लेसमेंट के दौरान जॉब प्राप्त कर सकें। आज इंस्टीट्यूट से प्लेसमेंट प्राप्त करने वाले छात्र रिसर्च कंसल्टिंग, IT, बैंकिंग, FMCG आदि के क्षेत्र में बड़ी कंपनियों में निर्णायक भूमिका निभा रहे हैं। वहां वो एनालिस्ट एक्सपर्ट, टैक्स कंसल्टेंट, रिसर्च एसोसिएट, फाइनेंशियल एनालिस्ट, बिजनेस एनालिस्ट के रूप में काम कर रहे हैं।

जिन बड़ी कंपनियों ने जयपुरिया के छात्रों के हुनर को पहचाना है और उन्हें 2021 मे जॉब्स दी है, उनमें शामिल हैं ICICI बैंक, डेलॉयट, HCL, आदित्य बिरला फैशन, IDFC बैंक, Delhivery, Ernst&young, टाटा पॉवर, हिंदुस्तान यूनिलीवर, रिलायंस इंडस्ट्रीज, डाबर, मैरिको, लीना AI और ग्लोबल डेटा रिसर्च। हाल ही में इन कंपनियों को जॉइन करने वाले छात्रों को औसत CTC 6.75 दिया गया है। जयपुरिया के प्लेसमेंट रिकॉर्ड को देखें तो यहां के छात्रों ने मार्केटिंग, एनालिटिक्स और कंसल्टिंग के क्षेत्र में अपना दबदबा कायम किया हुआ है।

समय के साथ-साथ कैसे खुद को बदला जाता है, यह जयपुरिया को अच्छी तरह से पता है। बता दें कि संस्थान इन-हाउस समर इंटर्नशिप प्रोग्राम (SIP) चलाती है, ताकि छात्र रियल वर्ल्ड में अपनी ट्रेनिंग को और ज्यादा बेहतर कर सकें और कुछ नया सीख सकें। इसमें छात्र कंपनी के प्रोजेक्ट पर काम करते हैं। इस प्रोग्राम में वीक वाइस टास्क, डिलिवरेबल्स, अस्सेस्स्मेंट और प्रैक्टिकल लर्निंग को शामिल किया गया है। SIP के जरिए जिन कंपनियों में रिक्रूटमेंट मिली है, उनमें अमेजन, टाटा कंज्यूमर, बजाज आलियांज जनरल इंश्योरेंस, मार्स रिगली, PVH-अरविंद फैशन, ITC, शॉपर्स स्टॉप, लुमिनस, ब्लू स्टार और अल्ट्राटेक सीमेंट शामिल हैं। इसके अलावा छात्र कंपनियों में पूरे आत्मविश्वास के साथ अपना महत्वपूर्ण योगदान दें पाएं, इसके लिए जयपुरिया PGDM प्रोग्राम के साथ-साथ उन्हें सॉफ्ट स्किल में भी कुशल बनाने पर पूरा ध्यान देता है। ये स्किल है इमोशनल इंटेलिजेंस, कम्युनिकेशन, एडैप्टिबिलिटी, क्रिएटिविटी, कोलेबोरेशन, लीडरशिप और टाइम मैनेजमेंट।

टेक्नोलॉजी की वजह से जिस तरह से काम करने का तरीका बदल रहा है, उसे देखते हुए कंपनियों को नए स्किल की आवश्यकता है, जिसे जयपुरिया एक मैनेजमेंट संस्थान के रूप में छात्रों को तैयार करके पूरा कर रहा है। इसके प्लेसमेंट रिकॉर्ड को देखकर कहा जा सकता है कि यह छात्रों के स्किल को निखारने में पूरी मेहनत करता है। ज्यादा जानकारी के लिए विजिट करें -