कोरोना के बढ़ते मामलों और टीकाकरण को लेकर हर्षवर्धन करेंगे 11 राज्‍यों के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रियों के साथ बैठक

 

पिछले कुछ दिनों से संक्रमण के ज्यादा मामले को लेकर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन मंगलवार को उन 11 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के स्वास्थ्य मंत्रियों के साथ बैठक करेंगे जहां पिछले कुछ दिनों से संक्रमण के ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं। साथ ही देश में टीकाकरण की स्‍थिति पर भी चर्चा होगी।

 नई दिल्ली, एजेंसी। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन मंगलवार को उन 11 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के स्वास्थ्य मंत्रियों के साथ बैठक करेंगे, जहां पिछले कुछ दिनों से संक्रमण के ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं। साथ ही देश में टीकाकरण की स्‍थिति पर भी चर्चा होगी। इस बीच केंद्र सरकार ने कोविड पर नियंत्रण और रोकथाम उपायों के लिए महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़ और पंजाब में 50 उच्च स्तरीय स्वास्थ्य टीमों को रवाना किया है। कोरोना के गंभीर होते हालात के मद्देनजर हर्षवर्धन महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, दिल्ली, गुजरात, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, झारखंड, कर्नाटक, मध्य प्रदेश, पंजाब और राजस्थान के स्वास्थ्य मंत्रियों के साथ बैठक करेंगे। इनमें से कुछ राज्यों में बहुत ही तेजी से संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं।

इस बीच कोरोना के बढ़ते मामले को लेकर महाराष्‍ट्र के मुख्‍यमंत्री उद्धव ठाकरे और दिल्‍ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा है। महाराष्‍ट्र के मुख्‍यमंत्री उद्धव ठाकरे और दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने पीएम नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर नया टीकाकरण केंद्र खोलने के लिए शर्तों में ढील देने का अनुरोध किया है। इसके साथ ही टीकाकरण के लिए आयु सीमा में छूट देने की मांग भी की है। अरविंद केजरीवाल ने पत्र के माध्यम से पीएम मोदी से अपील की है कि कोरोना का टीका सभी लोगों के लिए उपलब्ध कराया जाए। वहीं उद्धव ठाकरे ने 25 वर्ष से ऊपर सभी लोगों को टीका लगाने की अनुमति देने की मांग की है। 

इसी बीच इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (IMA) ने मंगलवार को प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखते हुए कहा है कि टीकाकरण 18 वर्ष से अधिक आयु के सभी लोगों के लिए भी खोल देना चाहिए।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, पिछले 24 घंटे में भारत में कोरोना वायरस के 96,982 नए मामले आने के बाद कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या 1 करोड़ 26 लाख 86 हजार 49 हो गई है। इस दौरान हुई 446 नई मौतों के बाद कुल मौतों की संख्या 1 लाख 65 हजार के पार हो गई है। देश में लगातार 27 दिनों से नए मामलों में हो रही बढ़ोतरी के बाद सक्रिय मामलों की संख्या भी बढ़कर 7 लाख 88 हजार 223 हो गई, जो कुल मामलों का 6.21 फीसद है।