दिल्ली दंगा : ताहिर, उमर समेत 16 आरोपितों की न्यायिक हिरासत 21 मई तक बढ़ी

 

मुकदमे में मुख्य आरोपित एवं आप के पार्षद रहे ताहिर हुसैन

मुख्य आरोपित एवं आप के पार्षद रहे ताहिर हुसैन जेएनयू के पूर्व छात्र उमर खालिद जेएनयू के छात्र शरजील इमाम पूर्व पार्षद इशरत जहां देवांगना कलीता नताशा नरवाल समेत 16 आरोपितों की न्यायिक हिरासत 21 मई तक बढ़ा दी गई है।

नई दिल्ली,  संवाददाता। दिल्ली दंगे की साजिश रचने के मामले में गैर कानूनी गतिविधि रोकथाम अधिनियम (यूएपीए) के तहत दर्ज मुकदमे में मुख्य आरोपित एवं आप के पार्षद रहे ताहिर हुसैन, जेएनयू के पूर्व छात्र उमर खालिद, जेएनयू के छात्र शरजील इमाम, पूर्व पार्षद इशरत जहां, देवांगना कलीता, नताशा नरवाल समेत 16 आरोपितों की न्यायिक हिरासत 21 मई तक बढ़ा दी गई है। दो आरोपित सफूरा जरगर और फैजान खान जमानत पर बाहर हैं।

गत वर्ष दिल्ली में हुए दंगे की साजिश के मामले में दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल जांच कर रही है। इस मामले में एक मुख्य आरोपपत्र और दो पूरक आरोपपत्र दायर हो चुके हैं। स्पेशल सेल साजिश से पर्दा उठाने के लिए गहराई से जांच कर रही है। आरोपितों के मोबाइल का डाटा स्कैन किए गए हैं।

वो डाटा तक मोबाइल से निकाला गया है, जो डिलीट कर दिया गया। साथ ही स्पेशल सेल ने दंगा प्रभावित क्षेत्रों में सड़कों पर लगे सीसीटीवी कैमरों से काफी अहम साक्ष्य जुटाए हैं। जिसे कोर्ट के समक्ष रख यह बताया गया कि दंगाइयों ने किस तरह से साजिश के तहत दंगे किए, जिसमें 53 लोगों की जान चल गई और 550 से ज्यादा लोग घायल हुए थे। बता दें कि दिल्ली दंगे में नाम आने के बाद ताहिर हुसैन को आप ने निलंबित कर दिया था