हांगकांग में लोकतंत्र समर्थक आंदोलनों के लिए 7 लोग दोषी, 16 अप्रैल को होगा सजा का निर्णय

 

हांगकांग में लोकतंत्र समर्थक आंदोलनों के लिए 7 लोग दोषी, 16 अप्रैल को होगा सजा का निर्णय

हांगकांग में सात लोकतंत्र समर्थकों को गैरकानूनी रूप से एकत्रित होकर सभा करने और प्रदर्शन का दोषी माना गया है। इनमें डेली एपल के संस्थापक जिमी लाइ और वयोवृद्ध नेता 82 वर्षीय मार्टिन ली भी शामिल हैं। लाइ पहले से ही अन्य आरोपों में बिना जमानत जेल में हैं।

हांगकांग, एपी। हांगकांग में सात लोकतंत्र समर्थकों को गैरकानूनी रूप से एकत्रित होकर सभा करने और प्रदर्शन का दोषी माना गया है। इनमें डेली एपल के संस्थापक जिमी लाइ और वयोवृद्ध नेता 82 वर्षीय मार्टिन ली भी शामिल हैं। लाइ पहले से ही अन्य आरोपों में बिना जमानत जेल में हैं। इन सभी को दस साल तक की सजा हो सकती है। सजा का निा र्णय 16 अप्रैल को होगा।

सभी सातों लोगों को 18 अगस्त, 2019 के प्रदर्शन में लिप्त होने का दोषी माना गया है। इस प्रदर्शन में आयोजकों ने दावा किया था चीन के एक प्रस्तावित विधेयक के खिलाफ लगभग 17 लाख लोगों ने भाग लिया। इस विधेयक में किसी भी मामले के संदिग्ध को सुनवाई के लिए चीन प्रत्यर्पित करने का प्रविधान था। विधेयक को जबर्दस्त प्रदर्शन के बाद वापस ले लिया गया था, लेकिन पूर्ण लोकतंत्र को लेकर आंदोलन जारी रहा। इस प्रदर्शन में सात लोगों के अलावा अन्य जिन लोगों को हिरासत में लिया गया था, उन्हें जमानत दे दी गई थी। उनको हांगकांग न छोड़ने का निर्देश है।

जिस समय यह मुकदमा चल रहा था, अदालत परिसर के बाहर काफी भीड़ थी। इस दौरान नारेबाजी भी की गई। अब इन सातों लोगों को सजा की घोषणा 16 अप्रैल को होगी। सजा से पहले बचाव पक्ष के तर्को को एक बार सुना जाएगा। हांगकांग में गैरकानूनी तरीके से एकत्रित होकर प्रदर्शन करने को गंभीर अपराध माना जाता है। इस अपराध में दस साल तक की सजा का प्रविधान है। इससे पहले पूर्व विधायिका सदस्य एयू नोक हिन और ल्यूंग यू चुंग को भी गैरकानूनी रूप से इकट्ठा होने का दोषी माना जा चुका है।