दिल्ली में ऑक्सीजन की किल्लत हो रही गंभीर, अस्पताल में प्लांट बंद, मरीजों को दूसरे जगह ले जाने की अपील

 

दिल्ली में ऑक्सीजन किल्लत की समस्या अब गंभीर होती जा रही है।
दिल्ली में ऑक्सीजन किल्लत की समस्या अब गंभीर होती जा रही है। डर है कि कहीं ऑक्सीजन की कमी से महाराष्ट्र जैसा हाल ना हो जाए। शांति मुकुंद अस्पताल में आक्सीजन के प्लांट को बंद कर दिया गया है।

नई दिल्ली। दिल्ली में ऑक्सीजन किल्लत की समस्या अब गंभीर होती जा रही है। डर है कि कहीं ऑक्सीजन की कमी से महाराष्ट्र जैसा हाल ना हो जाए। शांति मुकुंद अस्पताल में आक्सीजन के प्लांट को बंद कर दिया गया है। वहीं पूर्वी दिल्ली के ही मेट्रो अस्पताल में भी ऑक्सीजन प्लांट को बंद कर दिया गया है। मरीजों के लिए कुछ ही सिलेंडर बचे हैं। ऑक्सीजन की समस्या का समाधान नहीं होते देख अस्पताल प्रशासन ने तीमारदारों से कह दिया है कि वह अब आपने मरीज़ो को दूसरे अस्पताल ले जाएं।

क्या है शांति मुकुंद अस्पताल का हाल

पूर्वी दिल्ली के अंदर आने वाले शांति मुकुंद अस्पताल में ऑक्सीजन खत्म होने से प्लांट को बंद कर दिया गया है। अस्पताल प्रबंधन ने किसी तरह फरीदाबाद से दस सिलेंडर की व्यवस्था की है। बता दें कि यहां पर 90 से ज्यादा कोरोना मरीज का इलाज चल रहा है जो भर्ती हैं। अस्पताल प्रबंधन ने तीमारदारों से कहा है वह भी सिलेंडर की व्यवस्था करें, अगर नहीं हो पाए तो मरीज को दूसरे अस्पताल ले जाए। वहीं, पुलिस भी व्यवस्था करने में जुटी है।

प्रीत विहार मेट्रो अस्पताल में हालत बेहद खराब

पूर्वी दिल्ली के ही प्रीत विहार स्थित मेट्रो अस्पताल में भी ऑक्सीजन प्लांट को बंद कर दिया गया है। यहां मरीजों के लिए कुछ ही ऑक्सीजन सिलेंडर बचे हैं। दूर-दूर तक ऑक्सीजन की व्यवस्था बनती नजर नहीं आ रही है। ऐसे में अस्पताल प्रबंधन ने तीमारदारों से कहा आप अपने मरीजों को दूसरे अस्पताल ले जाएं। जिससे उनका इलाज सुचारू चलता रहे। प्रशासन का कहना है सरकार को ऑक्सीजन के बारे में बता दिया गया है, लेकिन कहीं भी बात बनती नजर नहीं आ रही है।