उन्नाव के सरस्वती मेडिकल कॉलेज में कोरोना संक्रमित नौ की मौत के बाद जमकर हंगामा

 

उन्नाव के कोविड हॉस्पिटल सरस्वती मेडिकल कॉलेज

उन्नाव के एक मात्र कोविड हॉस्पिटल सरस्वती मेडिकल कॉलेज में भर्ती नौ कोरोना संक्रमितों की मौत हो गई। इसके बाद स्वजनों ने इलाज में लापरवाही और पर्याप्त ऑक्सीजन के साथ दवा न मिलने का आरोप लगा कोविड हॉस्पिटल गेट पर हंगामा किया।

उन्नाव। राजधानी लखनऊ तथा कानपुर के बीच उन्नाव जिले के एकमात्र कोविड हॉस्पिटल में सरस्वती मेडिकल कॉलेज भी लापरवाही चरम पर है। यहां पर बुधवार को दिन में कोरोना संक्रमित नौ लोगों की मौत के बाद माहौल काफी तनावपूर्ण हो गया। नौ लोगों की एक साथ मौत के बाद जिला प्रशासन में भी खलबली मची है।

उन्नाव के एक मात्र कोविड हॉस्पिटल सरस्वती मेडिकल कॉलेज में भर्ती नौ कोरोना संक्रमितों की मौत हो गई। इसके बाद कोरोना संक्रमित के स्वजनों ने इलाज में लापरवाही और पर्याप्त ऑक्सीजन के साथ दवा न मिलने से मौत होने का आरोप लगा कोविड हॉस्पिटल गेट पर हंगामा किया। वहीं बुधवार को जिले में आरटीपीसीआर जांच रिपोर्ट में 189 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। यहां पर जिला अस्पताल के सीएमएस भी कोरोना पॉजिटिव हो गए।

सरस्वती मेडिकल कॉलेज में बुधवार को नौ कोरोना संक्रमितों की मौत की जानकारी उनके स्वजन को हुई तो उन्होंने अस्पताल गेट पर शोर शराबा कर हंगामा शुरू कर दिया। एसडीएम प्रदीप ने उन्हेंं दवा इलाज में किसी तरह की लापरवाही न होने का भरोसा दिलाते हुए इलाज की व्यवस्था की हकीकत बता शांत कराया। सीएमओ डॉ. आशुतोष कुमार ने बताया कि सरस्वती मेडिकल कॉलेज में भर्ती गंभीर कोरोना पॉजिटिव नौ लोगों की मौत हुई है। उन्होंने कहा कि इलाज में किसी तरह की कोताही नहीं की जा रही है। सभी संक्रमितों को बचाने का यहां पर पूरा प्रयास किया जा रहा है। यहां पर हर संभव दवा व इंजेक्शन दिए जा रहे हैं। ऑक्सीजन की भी कोई कमी नहीं है।