शिवसेना ने संजय राउत के साथ अरविंद सावंत को भी बनाया पार्टी का मुख्य प्रवक्ता

 

शिवसेना ने संजय राउत के साथ अरविंद सावंत को भी बनाया पार्टी का मुख्य प्रवक्ता। फाइल फोटो

शिवसेना ने सांसद अरविंद सावंत को पार्टी का मुख्य प्रवक्ता बनाया है। माना जा रहा है अनिल देशमुख को एक्सीडेंटल गृह मंत्री कहने से पार्टी संजय राउत से नाराज है। इस वजह से उनके पर कतरने की कवायद शुरू की गई है।

मुंबई, प्रेट्र।महाराष्ट्र में शिवसेना ने सांसद अरविंद सावंत को पार्टी का मुख्य प्रवक्ता बनाया है। माना जा रहा है अनिल देशमुख को एक्सीडेंटल गृह मंत्री कहने से पार्टी संजय राउत से नाराज है। इस वजह से उनके पर कतरने की कवायद शुरू की गई है। अरविंद सावंत को यह जिम्मेदारी संजय राउत के समकक्ष मिली है। सावंत पहले भी पार्टी के प्रवक्ता रह चुके हैं। शिवसेना ने बुधवार को अपने मुख्य पत्र सामना में अपने प्रवक्ताओं की सूची प्रकाशित की है। संजय राउत को गत वर्ष पार्टी का मुख्य प्रवक्ता बनाया गया था। गत दिनों देशमुख के खिलाफ की गई राउत की टिप्पणी पार्टी के कई नेताओं को नागवर गुजरी है। 

महाराष्ट्र में अमरावती से सांसद नवनीत रवि राणा ने लोकसभा अध्यक्ष को पत्र लिखकर आरोप लगाया था कि शिवसेना सांसद अरविंद सावंत ने उन्हें धमकी देते हुए कहा कि 'तू महाराष्ट्र में कैसे घूमती है मैं देखता हूं और तेरे को भी जेल में डालूंगा।' नवनीत ने बताया कि सचिन वझे को मामले को उठाने के बाद मुझे इस तरह की धमकी दी गई है। इससे पहले महाराष्ट्र के अमरावती की लोकसभा सांसद नवनीत रवि राणा को किसी ने जान से मारने की धमकी दी गई थी। आरोपित ने शिवसेना के लेटर हेड पर धमकी भरा पत्र सांसद के नई दिल्ली, नार्थ एवेन्यू के आवास पर छोड़ा था। पत्र में उन्हें शिव सेना के खिलाफ बोलने पर गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी दी गई है। सांसद द्वारा इसकी शिकायत के बाद नई दिल्ली पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच की।

नवनीत रवि राणा महाराष्ट्र के अमरावती लोकसभा से निर्दलीय सांसद हैं। वह नई दिल्ली, नार्थ एवेन्यू स्थित सांसद फ्लैट में रहती हैं। गत दिनों लोकसभा में उन्होंने शिवसेना के खिलाफ भाषण दिया था। पुलिस अधिकारी ने बताया कि नवनीत रवि राणा ने 13 फरवरी को पुलिस में अज्ञात द्वारा धमकी भरा पत्र भेजे जाने की शिकायत की थी।सांसद ने बताया था कि कोई उनके आवास परिसर में धमकी भरा पत्र रख गया। शिव सेना के लेटर हेड पर लिखे पत्र में उन्हें लोकसभा में शिव सेना के खिलाफ नहीं बोलने की हिदायत दी गई है। ऐसा करने पर उन्हें जान से मारने की बात कही गई है। वहीं, पत्र में उनके खिलाफ अपमानजनक शब्दों का भी इस्तेमाल किया गया है। सांसद की शिकायत को गंभीरता से लेते हुए नार्थ एवेन्यू थाना पुलिस ने इस संबंध में 14 फरवरी को मुकदमा दर्ज किया। वहीं, पत्र भेजने वाले की तलाश शुरू कर दी गई है। सांसद फ्लैट के समीप लगे सीसीटीवी फुटेज सहित तकनीकी सर्विलांस के माध्यम से आरोपित की पहचान की कोशिश की जा रही है। पुलिस ने आरोपित के खिलाफ मौत की धमकी व स्त्री की लज्जा का अनादर करने इत्यादि की धारा के तहत मुकदमा दर्ज किया है।