कोलकाता में कोरोना जांच कराने वाला हर दूसरा व्यक्ति मिल रहा संक्रमित
कोलकाता में कोरोना जांच कराने वाला हर दूसरा व्यक्ति मिल रहा संक्रमित। फाइल फोटो

 बंगाल में हर दिन कोरोना संक्रमितों की संख्या नया रिकार्ड बना रही है। कोलकाता की हालत इतनी खराब है कि यहां आरटी-पीसीआर जांच करवाने वाला हर दूसरा शख्स कोरोना पॉजिटिव मिल रहा है। अगर पूरे राज्य की बात करें तो हर चौथा व्यक्ति कोरोना संक्रमित पाया जा रहा है।

राज्य ब्यूरो, कोलकाता।  देश में कोरोना का ग्राफ लगातार बढ़ रहा है। इस बीच, बंगाल में स्थिति और गंभीर होती जा रही है। लोगों ने मास्क नहीं पहनने, जहां-तहां थूकने, शारीरिक दूरी नहीं मानने और चुनावी सभाओं में कोरोना नियम की जो धज्जियां उड़ाईं हैं, उसका नतीजा अब सामने आने लगा है। बंगाल में हर दिन कोरोना संक्रमितों की संख्या नया रिकार्ड बना रही है। कोलकाता की हालत इतनी खराब है कि यहां आरटी-पीसीआर जांच करवाने वाला हर दूसरा शख्स कोरोना पॉजिटिव मिल रहा है। वहीं, अगर पूरे राज्य की बात करें तो हर चौथा व्यक्ति कोरोना संक्रमित पाया जा रहा है। खबर है कि आरटी-पीसीआर जांच करने वाली लैब के एक डॉक्टर का कहना है कि कोलकाता और उसके आसपास के इलाकों की टेस्ट कर रही लैब में पॉजिटिविटी रेट 45 से 55 फीसद पहुंच चुका है।

वहीं, बंगाल के दूसरे शहरों में ये दर 24 फीसद के आसपास है। एक माह पहले ये दर पांच फीसद थी। डॉक्टर का कहना है कि कई लोग ऐसे हैं, जिन्हें हल्के या बहुत कम लक्षण हैं और वह जांच नहीं करा रहे हैं लेकिन इस समय हमें जांच से पीछे नहीं हटना है। बल्कि ज्यादा से ज्यादा कोरोना जांच करानी चाहिए। एक अप्रैल को बंगाल में 25,766 लोगों की कोरोना जांच की गई थी। उसमें से सिर्फ 1274 लोग संक्रमित पाए गए थे। यानी पॉजिटिविटी रेट 4.9 फीसद था। वहीं, शनिवार को 55,060 लोगों की जांच की गई। इसमें से 14,281 लोग पॉजिटिव पाए गए। यानी पॉजिटिविटी रेट बढ़ कर 25 फीसद से ज्यादा हो गया है। डाक्टरों का कहना है कि संक्रमण दर में तेजी के पीछे की वजह है। लोगों के तेजी से संक्रमित होने के पीछे की वजह म्यूटेंट वायरस है। ये वायरस काफी कम समय में ज्यादा से ज्यादा लोगों को संक्रमित कर रहा है। कई लैबों में पॉजिटिविटी रेट 50 फीसद के आसपास है।सैंपल टेस्टिंग को लेकर दबाव बहुत ज्यादा है। ये अच्छी बात है कि लोग कोरोना जांच करवाने के लिए आगे आ रहे हैं। कोरोना संक्रमितों को ढूंढकर जितनी जल्दी आइसोलेट किया जाएगा, ये हमारे लिए ही बेहतर होगा। बंगाल में चुनाव का दौर चल रहा है। चुनाव आयोग ने बंगाल में आठ चरणों में चुनाव करा रहा है। छह चरणों के चुनाव हो चुके हैं, जबकि सातवें चरण में 34 सीटों पर सोमवार को मतदान होगा। अभी हाल तक सभी पार्टियां बड़ी-बड़ी रैलियां आयोजित कर रही थी। जिसमें बड़ी संख्या में लोग आ रहे थे, लेकिन देश में कोरोना वायरस की स्थिति को देखते हुए आयोग ने पिछले गुरुवार को रोड शो और रैलियों पर रोक लगा दी। परंतु, दूसरी ओर अभी लोग मास्क नहीं पहन रहे व जहां-तहां थूूक रहे हैं, जिससे संक्रमण तेजी से फैल रहा है।