कोरोना संकट के बावजूद ये पांच शेयर कर सकते हैं आपको मालामाल, जानिए हर जरूरी बात

 

SBI Life सबसे अच्छा प्रदर्शन करने वाली प्राइवेट इंश्योरेंस कंपनियों में शुमार है।

निवेशकों को बास्केट अप्रोच अपनाना चाहिए। इसका अभिप्राय है कि अलग-अलग सेक्टर के अच्छी क्वालिटी के स्टॉक में निवेश से आने वाले कुछ समय की क्षति की पूर्ति की जा सकती है और लंबी अवधि में बेहतर रिटर्न प्राप्त किया जा सकता है।

नई दिल्ली। वर्ष 2020-21 में जबरदस्त उतार-चढ़ाव देखने को मिला। इसके बावजूद मार्च, 2020 के निचले स्तर से शेयर बाजारों ने 80 फीसद का उछाल हासिल किया। यह महामारी बाजारों में बढ़त के ट्रेंड को तोड़ने में विफल रही। इससे कई लोगों को तो काफी राहत मिली। लेकिन दुनियभार में जमीनी स्तर पर कई तरह की समस्याओं के बावजूद स्टॉक मार्केट की तेजी के सिलसिला ने कई लोगों को हैरत में डाल दिया। दरअसल, जिन लोगों ने बाजार में भरोसा बनाए रखा और निवेश बनाए रखा, उन्होंने पैसे भी बनाए। हालांकि, कोविड के नए मामलों में वृद्धि से जोखिम बढ़ा है और आने वाले कुछ समय के लिए अनिश्चितता पैदा हो गई है। ब्याज दर पहले से काफी नीचे हैं, ऐसे में निवेशकों को ऐसे स्टॉक की तरफ देखना चाहिए, जिन्होंनें लचीलता दिखाई है। उन्हें ऐसे स्टॉक में निवेश के बारे में सोचना चाहिए, जिनमें स्थिति और बिगड़ने पर भी मजबूती से टिके रहने की संभावना नजर आती हो। 

मौजूदा समय में निवेशकों को 'बास्केट अप्रोच' अपनाना चाहिए। इसका अभिप्राय है कि अलग-अलग सेक्टर के अच्छी क्वालिटी के स्टॉक में निवेश से आने वाले कुछ समय की क्षति की पूर्ति की जा सकती है और लंबी अवधि में बेहतर रिटर्न प्राप्त किया जा सकता है। निवेशकों को इस बात को ध्यान में रखना चाहिए कि स्टॉक को लंबे समय तक होल्ड करने पर उन्हें कम्पाउंडिंग का लाभ मिल सकता है। उल्लेखनीय है कि सफल निवेशक बनने के लिए धीरज रखना बहुत जरूरी होता है। आपको अपने फायदे को बढ़ते रहने देना चाहिए, जबतक कि आपके पैसे की जरूरत ना हो। 

हमें अच्छी कंपनियों के शेयरों पर ध्यान देना चाहिए। नीचे जिन शेयरों की सूची दी गई है, वह किसी भी तरह के तूफान को पार पाने में सक्षम है और महामारी खत्म होने के बाद अच्छा रिटर्न दे सकता है।  

Dr Reddy's: कोविड-19 के बढ़ते मामलों के साथ दवाइयों की मांग में जबरदस्त वृद्धि देखने को मिली है और कंपनियों के प्रोडक्ट्स की बिक्री में काफी अच्छी बढ़ोत्तरी देखने को मिली है। कंपनी ने निरंतर मजबूत प्रदर्शन किया है और पिछले 10 साल में 14% के CAGR से कंपनी ने शुद्ध लाभ दिया है। पिछले कुछ साल से फार्मा सेक्टर का प्रदर्शन बहुत अच्छा नहीं रहा था। लेकिन अब चीजे इस सेक्टर के पक्ष में हैं और इस स्टॉक के लिए परिस्थितियां अनुकूल हैं। 

Vinati Organics: फार्मा सेक्टर के साथ-साथ स्पेशियालिटी केमिकल सेक्टर के स्टॉक में भी ग्रोथ देखने को मिला है। इसकी वजह है कि कोविड-19 संकट के बाद कई देशों ने चीन की बजाय भारत से स्पेशियालिटी केमिकल के आयात को तरजीह दी है।  

Coforge Tech: इस मिड-कैप आईटी कंपनी ने कई डील हासिल होने की सूचना दी है। इसके साथ ही BPM और डिजिटल सॉल्युशन्स जगत में अपनी क्षमताओं को बढ़ाने के लिए ज्यादा-से-ज्यादा अधिग्रहण कर रही है। आने वाले समय में Coforge जैसी अच्छी कंपनियों में निवेश से इंवेस्टर्स को लंबी अवधि में अच्छा रिटर्न हासिल हो सकता है।

Kotak Mahindra Bank: कोविड-19 महामारी के बीच सरकार ने बिजनेस के लिए क्रेडिट की उपलब्धता सुनिश्चित करने के वास्ते प्रभावी कदम उठाए हैं। आरबीआई (RBI) द्वारा ब्याज दर में कमी  और बॉरोअर्स के लिए मोरेटोरियम के ऐलान के बीच कई बैंकों ने सतर्क रुख बरतते हुए अपनी परिसंपत्तियों के लिए पर्याप्त प्रोविजन किए हैं। महामारी की शुरुआत में ही इस बैंक ने फंड जुटाया था और यह काफी सतर्क रुख के साथ लेंडिंग करता है।  

SBI Life Insurance: हाल के समय में इंश्योरेंस सेक्टर में काफी ग्रोथ देखने को मिला है। SBI Life सबसे अच्छा प्रदर्शन करने वाली प्राइवेट इंश्योरेंस कंपनियों में शुमार है। इंश्योरेंस सेक्टर में एफडीआई की सीमा बढ़ने से एसबीआई लाइफ जैसी पहले से स्थापित कंपनियों को फायदा होने की उम्मीद है।  

इन पांच बुनियादी रूप से मजबूत स्टॉक में निवेश से आप लंबे समय में अच्छा धनोपार्जन कर सकते हैं।