यूपी की जेल में महिला बंदियों से पैसे लेकर मोबाइल फोन पर कराती थी बात, वॉर्डन अनीता राणा निलंबित

 

बताया जा रहा हैक कि 5 मिनट कॉल करने के 100 रुपये लिए जाते थे।

इसका खुलासा तब हुआ जब महिला बैरक में तैनात महिला होमगार्ड से एक मोबाइल फोन और चार्जर मिला था। महिला होमगार्ड ने मोबाइल कपड़ों में छुपाया था और इससे 6 से 7 नंबरों पर वॉट्सऐप कॉलिंग की गई थी

ग्रेटर नोएडा ]। दिल्ली से सटे गौतमबुद्धनगर की जिला जेल में महिला बंदियों से पैसे लेकर मोबाइल फोन पर बात कराने वाली जेल वॉर्डन अनीता राणा निलंबित को निलंबित कर दिया गया है। बता दें कि गौतमबुद्धनगर की जिला जेल लुक्सर के अंदर कर्मचारियों के मोबाइल फोन से कैदियों के अपने परिजनों से बात करने का मामला सामने आया था। इसका खुलासा तब हुआ जब महिला बैरक में तैनात महिला होमगार्ड से एक मोबाइल फोन और चार्जर मिला था। महिला होमगार्ड ने मोबाइल कपड़ों में छुपाया था और इससे 6 से 7 नंबरों पर वॉट्सऐप कॉलिंग की गई थी। इसके बाद जेल प्रशासन ने महिला होमगार्ड को कारागार अधिनियम में नामजद कर केस दर्ज किया है। बताया जा रहा है कि महिला होमगार्ड अनीता राणा 5 मिनट कॉल करने के बदले कैदियों से 100 रुपये वसूलती थी। उस दौरान महिला होमगार्ड साधना की महिलाकर्मियों ने तलाशी ली। उसके अंडरगारमेंट से मोबाइल और चार्जर मिला। साधना ने अधिकारियों को बताया कि मोबाइल किसी और होमगार्ड का है। जिला कारागार की हेड वॉर्डन कैलाश्री ने मामले में ईकोटेक-1 थाने में केस दर्ज कराया है।

जेल के अंदर महिला होमगार्ड से मिले मोबाइल से 6 से 7 अलग-अलग नंबरों पर वॉट्सऐप कॉलिंग की गई थी। आशंका है कि यह कॉल कैदियों और बंदियों से रुपये लेकर उनके परिजनों से कराई गई है। बताया जा रहा है कि मोबाइल फोन पर 5 मिनट कॉल करने के 100 रुपये, जबकि 10 मिनट कॉल करने के 200 रुपये लिए जाते थे।

जेल अधीक्षक भीमसैन मुकुंद की मानें तो लुक्सर जेल के अंदर मोबाइल फोन का इस्तेमाल किया जा रहा है, जिसकी शिकायत के आधार पर महिला बैरक में बंदियों और कैदियों की तलाशी ली थी, लेकिन कुछ नहीं मिला। यहां पर बता दें कि जेल में जैमर 2जी या 3जी का लगा है। इसमें 4जी सिम से नेटवर्क आ जाते हैं और जेल के अंदर से कॉल हो जाती है। अब जेल के अंदर लगे जैमर को 4जी कराने की तैयारी की जा रही है ताकि किसी भी तरह की कॉलिंग ना हो सके।

मोबाइल फोन से सिम मिला था गायब

जेल के अंदर महिला होमगार्ड से मोबाइल बरामद हुआ था पर उसमें सिम नहीं मिली थी। तब आशंका जताई गई थी कि महिला होमगार्ड ने सिम को निगल लिया। आरोपित होमगार्ड प्रेग्नेंट भी है। इस घटनाक्रम के दौरान तबीयत खराब होने पर वह बेहोश भी हो गई थीं। इस कारण उनसे पूछताछ नहीं हो सकी थी।