स्वास्थ्य विशेषज्ञों की सरकार से अपील, कोरोना वैक्सीन के लिए देश में बने नई रणनीति

 

स्वास्थ्य विशेषज्ञ ने संकट से निपटने के लिए नई रणनीति बनाने का आग्रह किया है।

कोरोना वायरस की दूसरी लहर को रोकने के लिए केंद्र सरकार ने टीकाकरण अभियान को और तेज कर दिया है। विदेशों से भी वैक्सीन आने का रास्ता खोला गया है। देश में जल्द ही रूस की वैक्सीन आने वाली है।

वाशिंगटन, पीटीआइ। भारत कोरोना महामारी की एक नई लहर का सामना कर रहा है। वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। ऐसे में एक सार्वजनिक स्वास्थ्य विशेषज्ञ ने संकट से निपटने के लिए सामूहिक टीकाकरण के लिए 'निर्माण, खरीद और प्रहार' की रणनीति अपनाने का आह्वान किया है। इसके साथ ही उन्होंने डॉक्टरों, राजनीतिक नेताओं और प्रशासन के बीच निरंतर संचार की बात कही है।

भारतीय प्रशासनिक सेवा क अधिकारी और अमेरिका के हार्वर्ड यूनिवर्सिटी में कोरोना पर शोध कर रही डॉ. मृणालिनी दरसवाल ने पीटीआइ को बताया कि हम भारत में महामारी के एक भयानक पुनरुत्थान का गवाह बन रहे हैं, जहां कुछ महीने पहले यह माना जा रहा था कि कोरोना संक्रमण खत्म होने की कागार पर है, लेकिन दुर्भाग्य से यह हमारे बीच में छीप गया और जब हम थोड़े लापरवाह हुए तो इसने फिर हमला कर दिया।