हमारी लड़ाई कोरोना से है, केंद्र सरकार से नहीं, इस पर राजनीति नहीं होनी चाहिएः सत्येंद्र जैन

 

स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन जानकारी देते हुए

स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने हमारी लड़ाई कोरोना से है केंद्र सरकार से नहीं है। कोरोना के खिलाफ लड़ाई में हम सभी को किसी तरह की राजनीति नहीं करनी चाहिए। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि दिल्ली के अंदर कोविड जांच की क्षमता को बढ़ा दिया है।

नई दिल्ली। स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने गुरुवार को कहा कि दिल्ली सरकार कोरोना को नियंत्रित करने के लिए सभी प्रयास कर रही है। हमारी लड़ाई कोरोना से है, केंद्र सरकार से नहीं है। कोरोना के खिलाफ लड़ाई में हम सभी को किसी तरह की राजनीति नहीं करनी चाहिए। दिल्ली सरकार का प्रयास है कि जल्द से जल्द, ज्यादा से ज्यादा दिल्ली वालों का वैक्सीनेशन कराया जा सके। इसी उद्देश्य से हमने केंद्र सरकार से सभी को वैक्सीनेशन करने और कैंप लगाकर बड़े पैमाने पर वैक्सीनेशन करने की अनुमति मांगी है।

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि दिल्ली के अंदर कोविड जांच की क्षमता को बढ़ा दिया है और दिल्ली में कल 90 हजार लोगों के कोरोना टेस्ट किए गए। उन्होंने कहा कि पूरे देश में कल 1,25,000 से ज्यादा कोरोना के नए मामले आए थे, जो पिछली बार आई कोरोना की लहरों में सबसे अधिक है। महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमण दर 25 फीसद है। छत्तीसगढ़ में यह दर 18 फीसद है और देश के अन्य कई राज्यों में संक्रमण दर 10 फीसद से अधिक चल रही है। वहीं, दिल्ली में अभी कोरोना संक्रमण की दर 6 फीसद से थोड़ी ऊपर चल रही है, जो अन्य राज्यों के मुकाबले कम है। पूरे देश में कोरोना संक्रमण के मामलों की प्रवृत्ति एक जैसी चल रही है।

सत्येंद्र जैन ने कहा कि कोरोना संक्रमण की मौजूदा लहर में पिछली सभी लहरों के मुकाबले मौतों का आंकड़ा कम देखने को मिल रहा है। संक्रमण की इस लहर में मौत का दर 0.4 फीसद है। जबकि कोरोना की पिछली लहर में मौत की दर 2-3 फीसद थी। मौजूदा लहर में कोरोना संक्रमण के मामले बहुत तेजी से बढ़ रहे हैं, लेकिन गंभीर मामले कम आ रहे हैं।

स्वास्थ्य मंत्री ने वैक्सीनेशन के संबंध में कहा कि हमने केंद्र सरकार से वैक्सीनेशन की उम्र सीमा को 65 साल से घटा कर 45 साल करने का सुझाव दिया था। इस संबंध में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कम से कम 45 साल से अधिक उम्र के सभी लोगों को वैक्सीनेशन करने की अनुमति देने के लिए केंद्र सरकार को एक प्रस्ताव भेजा था। केंद्र सरकार ने तीन दिन बाद इस प्रस्ताव को स्वीकार कर लिया और इन लोगों का वैक्सीनेशन किया जा रहा है।

इसके अलावा, हाल ही में सीएम अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली सरकार की तरफ से वैक्सीनेशन को लेकर दो और सुझाव दिए हैं, जिसमें सभी उम्र के लोगों को वैक्सीनेशन करने की अनुमति देने और कैंप लगाकर वैक्सीनेशन करना शामिल है। दिल्ली सरकार द्वारा युद्ध स्तर पर वैक्सीनेशन शुरू करने के लिए केंद्र सरकार को कैंप लगा कर टीकाकरण करने को लेकर भी सुझाव दिया गया है। जिस पर केंद्र सरकार अभी विचार कर रही है। अभी सिर्फ अस्पताल और डिस्पेंसरी में वैक्सीनेशन करने की अनुमति है। दिल्ली सरकार के पास 4-5 दिनों तक वैक्सीनेशन करने के लिए वैक्सीन उपलब्ध है।