दिल्ली में कोरोना से बिगड़ते जा रहे हालात, सभी शिक्षण संस्थाएं अगले आदेश तक बंद

 

कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए सभी स्कूल कॉलेज बंद करने के आदेश।

 दिल्ली में बढ़ते कोरोना के मामलों को देखते हुए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सभी सरकारी और निजी स्कूलों को अगले आदेश तक बंद करने के आदेश दिए हैं। इन दिनों राजधानी में कोरोना के केसों की संख्या में बढ़ोतरी हो रही है

नई दिल्ली, एएनआइ।  दिल्ली में बढ़ते कोरोना के मामलों को देखते हुए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सभी सरकारी और निजी स्कूलों को अगले आदेश तक बंद करने के आदेश दिए हैं। उन्होंने सभी क्लासों की सभी बच्चों के स्कूल बंद करने के आदेश दिए हैं। कुछ दिन पहले 9 वीं क्लास से ऊपर तक के बच्चों की क्लासें शुरु की गई थीं, अब उन सभी को बंद कर दिया गया है।

इन दिनों राजधानी में कोरोना के केसों की संख्या में बढ़ोतरी हो रही है, इस पर कंट्रोल करने के लिए पहले ही नाइट कर्फ्यू लगा दिया गया है। उसका सख्ती से पालन करवाया जा रहा है।

इसके अलावा मेट्रो और अन्य बाजारों में बिना मास्क पहनकर घूमने वालों को चालान किया जा रहा है। सरकार की ओर से सभी व्यस्त बाजारों में भी मास्क पहनना अनिवार्य किया गया है इसके अलावा शारीरिक दूरी का पालन करने के लिए सख्ती से पालन करवाया जा रहा है। इस बीच सरकार ने बच्चों का ध्यान रखते हुए स्कूलों को पूरी तरह से बंद करने का आदेश जारी कर दिया है।

दिल्‍ली में बीते 24 घंटे में कोरोना के 7,437 नए मामले सामने आए हैं। यह इस साल का सबसे बड़ा दैनिक आंकड़ा है। इसी अवधि में कोरोना संक्रमण के कारण 24 लोगों की मौत हो गई है जिससे दिल्‍ली में महामारी से मरने वालों की संख्या बढ़कर 11,157 हो गई। राजधानी के सर गंगाराम अस्पताल में एक साथ 37 डॉक्‍टर कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं।

इस बीच कोरोना की बढ़ती रफ्तार को देखते हुए दिल्ली सरकार ने अस्पतालों को 10 मिनट के अंदर मरीजों को भर्ती करने का आदेश दिया है। अस्पतालों को बेड और कर्मचारियों के बढ़ाने के साथ ही आक्सीजन की उपलब्धता भी सुनिश्चित करनी होगी। दिल्ली सरकार ने सभी अस्पतालों के चिकित्सा निदेशकों को व्यवस्थाएं दुरुस्त करने के निर्देश दिए हैं।