गौतम गंभीर ने ऑक्सीजन के लिए सभी मुख्यमंत्रियों को पत्र लिखने पर केजरीवाल को घेरा, पूछा- आपने क्या किया?

 

पूर्वी दिल्ली से भाजपा सांसद गौतम गंभीर

गौतम गंभीर ने कहा कि 8 ऑक्सीजन प्लांट केजरीवाल को लगाने थे जिमसें से एक ही लगा है। उसका क्या हुआ? हाथ तो आपने पिछले साल भी खड़े कर दिए थे इस साल भी कर रहे हैं और अगले साल भी करेंगे।

नई दिल्ली, एएनआइ। राजधानी दिल्ली में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। इस बीच ऑक्सीजन की किल्लत भी मरीजों की परेशानी बढ़ा दी है। ऑक्सीजन की समस्या को लेकर दिल्ली में राजनीति भी गरमा गई है। पूर्वी दिल्ली से भाजपा सांसद गौतम गंभीर ने रविवार को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की जमकर आलोचना की है। उन्होंने सीएम से पूछा 'दिल्ली में कोरोना से निपटने के लिए आपकी (केजरीवाल) योजना क्या थी? आपने एक वर्ष में कुछ भी क्यों नहीं किया? अब आप राज्यों के सभी मुख्यमंत्रियों को ऑक्सीजन के लिए पत्र रहे हैं। दिल्ली में आप आठ ऑक्सीजन संयंत्र लगाना चाह रहे थे उसका क्या हुआ'।

गौतम गंभीर ने कहा कि 8 ऑक्सीजन प्लांट लगाने का सीएम केजरीवाल ने वादा किया था जिमसें से एक ही लगा है। उसका क्या हुआ? हाथ तो आपने पिछले साल भी खड़े कर दिए थे, इस साल भी कर रहे हैं और अगले साल भी करेंगे।भाजपा सांसद ने कहा कि मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल अभी भी विज्ञापन पर चल रहे हैं। इस समय उसी पैसे से लोगों की सेवा करने की जरूरत है।

इससे पहले अभी हाल में गौतम गंभीर ने सीएम केजरीवाल की निंदा करते हुए कहा था कि वह छह साल से मुख्यमंत्री हैं। वह विश्व स्तरीय स्वास्थ्य सुविधाओं की बात करते थे। क्या दिल्ली में कोई ऐसा अस्पताल है जहां पर बेड उपलब्ध हो। गंभीर ने कहा कि दिल्ली में लोग कोरोना से परेशान हैं। केजरीवाल ने पिछले एक साल में इससे मुकाबले के लिए कुछ नहीं किया था।

दरअसल केजरीवाल ने ऑक्सीजन की मांग को लेकर शनिवार को देश के सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों को पत्र लिखकर मदद की गुहार लगाई थी। केजरीवाल ने कहा था कि अगर किसी के पास पर्याप्त मात्रा में आक्सीजन है तो वह दिल्ली की मदद करें। 

मरीजों के लिए फेबीफ्लू दवा फ्री में बांट रहे हैं गंभीर

गौतम गंभीर ने कहा कि उन्होंने पूर्वी दिल्ली के लिए फेबीफ्लू दवा बांटने की शुरूआत की थी। अब पूरी दिल्ली में जिसको भी जरूरत है वो हमारे फाउंडेशन के कार्यालय पर आधार कार्ड और डॉक्टर की पर्ची लेकर आएं और मुफ्त में ले जाएं। बता दें कि फेबीफ्लू दवा इस समय कोरोना मरीजों के लिए भी इस्तेमाल की जा रही है। इसकी वजह से इसकी मांग बढ़ गई है।