कोरोना काल के दौरान खान-पान में शामिल करें ये चीजें, मिलेंगे भरपूर प्रो‍टीन व बिटामिन

 

अपने खाने में शामिल करें ये चीजें।

डायटीशियन डा. गीतिका ग्रोवर ने बताया कि सुबह हैवी यानी गरिष्ठ नाश्ता करने से बचें। नाश्ता ब्रेकिंग द फास्ट यानी उपवास तोड़ने की भांति हल्का लेकिन पोषण से भरपूर होना चाहिए। आइए जानतें हैं नाश्‍ते से लेकर खाने तक क्‍या लेना उचित होगा।

मेरठ। कोरोना से बचाव के लिए शारीरिक फिटनेस के साथ-साथ उचित खानपान बेहद जरूरी है। लोगों की प्राथमिकता में भी संतुलित व पौष्टिक खानपान का मुद्दा ऊपर आ गया है। ऐसे में यह जानना जरूरी है कि किस तरह से अपनी दिनचर्या में आहार को लिया जाए। डायटीशियन डा. गीतिका ग्रोवर ने बताया कि सुबह हैवी यानी गरिष्ठ नाश्ता करने से बचें। नाश्ता ब्रेकिंग द फास्ट यानी उपवास तोड़ने की भांति हल्का लेकिन पोषण से भरपूर होना चाहिए, क्योंकि रात भर के बाद सुबह गरिष्ठ नाश्ता करने के चलते तेजी से शरीर में इंसुलिन की मात्र बढ़ सकती है। इससे बचें। साथ ही अन्य कुछ सुझाव दिए हैं, जिन्हें जानते हैं.

प्रोटीन युक्त नाश्ते का सेवन करें : अनाज काबरेहाइड्रेट का मुख्य स्नोत होते हैं। इसीलिए नाश्ते में पोहा, दलिया, उपमा आदि का सेवन करें। काबरेहाइड्रेट से शरीर को तुरंत ऊर्जा प्रदान होती है। प्रोटीन की कमी पूरी करने के लिए नाश्ते व आहार में दालें, पनीर, सोयाबीन, टोफू अगर मांसाहारी हैं तो मांस, चिकन, मछली, अंडा लें।

जिंक व विटामिन-डी यहां से लें

जिंक की पूर्ति के लिए सेब, मशरूम, हरी सब्जी, बादाम, काजू का सेवन करें इसके अलावा विटामिन डी प्राप्त करने के लिए सुबह के समय धूप में बैठें साथ ही मछली के सेवन से भी विटामिन डी प्राप्त होता है।

निर्जलीकरण से बचें

न सिर्फ कोरोना काल में बल्कि सामान्य तौर भी गर्मियों में निर्जलीकरण से बचें और इलेक्ट्रोलाइटस का संतुलन बनाएं रखें। इसके लिए सुबह के नाश्ते के बाद और दोपहर के भोजन से पहले नीबू पानी, शिकंजी या गर्मियों को देखते हुए कच्चे आम का पना पीएं। शाम के समय भी इसे दोहराएं।

विटामिन युक्त फल खाएं

कोरोना से लड़ने व बचाव के लिए इन दिनों विटामिन सी युक्त फलों का उपयोग करना चाहिए। क्योंकि विटामिन सी हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता का विकास करता है। इसके लिए जरूरी है कीवी, अनानास, संतरा खट्टे फल खाएं। वहीं मौसमी फल के तौर पर आम का सेवन करें। इसमें भी विटामिन की मात्र पाई जाती है।