पाकिस्तान ने भारत से कपास और चीनी के आयात के फैसले को टालाः सूत्र

 

प्रधानमंत्री इमरान खान की अध्यक्षता में कैबिनेट की बैठक में इस फैसले को फिलहाल होल्ड करने का निर्णय किया गया।

पाकिस्तान की कैबिनेट ने भारत से कपास और चावल के आयात के ECC के फैसले को फिलहाल होल्ड कर दिया है। पाकिस्तान की इकोनॉमी से संबंधित निर्णय लेने वाली शीर्ष निकाय ने बुधवार को भारत से चीनी व कपास के आयात को अपनी मंजूरी दे दी थी।

इस्लामाबाद, रायटर। पाकिस्तान की कैबिनेट ने भारत से कपास और चावल के आयात के ECC के फैसले को फिलहाल होल्ड कर दिया है। एक सूत्र ने यह जानकारी दी। पाकिस्तान की इकोनॉमी से संबंधित निर्णय लेने वाली शीर्ष निकाय ने बुधवार को भारत से चीनी व कपास के आयात को अपनी मंजूरी दे दी थी। हालांकि, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की अध्यक्षता में कैबिनेट की बैठक में इस फैसले को फिलहाल होल्ड करने का निर्णय किया गया। उल्लेखनीय है कि स्थानीय स्तर पर मांग और कीमतों में कमी लाने के लिए पाकिस्तान के इकोनॉमिक को-ऑर्डिनेशन कमेटी ने बुधवार को आयात को लेकर अपनी हरी झंडी दे दी थी।

इस फैसले को दो परमाणु-सशस्त्र संपन्न पड़ोसी देशों के बीच बंद पड़े व्यापार को फिर से चालू करने की दिशा में एक अहम कदम के तौर पर देखा जा रहा था।

गौरतलब है कि भारत दुनियाभर में कपास का सबसे बड़ा उत्पादक देश है। इसके अलावा चीनी के उत्पादन में भारत दुनिया में दूसरे स्थान पर काबिज है।

पाकिस्तान की इकोनॉमी से संबंधित फैसले लेने वाले शीर्ष संगठन ने रमजान के पहले चीनी एवं अन्य वस्तुओं के आयात को अपनी मंजूरी दी थी। इससे पाकिस्तान में चीनी के दाम में कमी आती और त्योहार के समय इसकी बढ़ती मांग से निपटने में भी मदद मिलती। 

भारत और पाकिस्तान की सेनाओं के बीच हाल में नई दिल्ली में सिंधु जल संधि के तहत संघर्ष विराम को लेकर चर्चा हुई।