फिर सक्रिय हुआ पश्चिमी विक्षोभ, देश के इन हिस्सों में गरज के साथ बारिश और ओलावृष्टि की संभावना

 

पश्चिमी विक्षोभ के चलते मौसम में आया खासा बदलाव

 भारतीय मौसम विभाग (IMD) के अनुसार देश के कई राज्यों में सोमवार से बुधवार के बीच भारी बारिश और बर्फबारी हो सकती है। इन सभी जगहों पर100 मिमी तक बारिश होने का अनुमान है ।

नई दिल्ली, एजेंसियां। आने वाले दिनों में देश के कई अहम हिस्सों के मौसम में खासा बदलाव देखने को मिलेगा। यह बदलाव पश्चिमी विक्षोभ के चलते रहेगा। रविवार दोपहर से पश्चिमी विक्षोभ हिमालयी क्षेत्र को प्रभावित कर सकता है। पश्चिमी विक्षोभ के चलते देश के पहाड़ी क्षेत्रों यानी उत्तराखंड, हिमाचल, जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में बारिश और बर्फबारी के आसार बने हुए हैं। देश के इन राज्यों में सोमवार से बुधवार के बीच भारी बारिश और बर्फबारी हो सकती है। भारतीय मौसम विभाग (IMD) के अनुसार इन सभी जगहों पर100 मिमी तक बारिश होने का अनुमान है।

वहीं, उधर स्काईमेट वेदर रिपोर्ट के अनुसार पूर्वोत्तर भारत के ऊपर एक चक्रवाती प्रवाह बना हुआ है। इस दौरान अगले तीन दिनों तक पूर्वोत्तर भारत के अरुणाचल प्रदेश, असम, मिजोरम, मेघालय, मिजोरम, नागालैंड, त्रिपुरा में भारी बारिश के आसार हैं और इस वजह से आइएमडी ने यहां यलो अलर्ट जारी किया है। वहीं, मध्य भारत और पश्चिमी भारत में मौसम शुष्क बना रहेगा। दक्षिण भारत के मौसम की बात करें तो केरल और तमिलनाडु में बिजली चमकने के साथ बारिश हो सकती है।

उत्तर-पूर्वी भारत और अंडमान-निकोबार द्वीप समूह में भारी बारिश की आसार हैं। जम्मू कश्मीर, गिलगित बाल्टिस्तान, मुजफ्फराबाद और लद्दाख के कुछ हिस्सों में भी हल्की बारिश हो सकती है। 

उत्तरी, मध्य, पश्चिमी और दक्षिणी भारत के कुछ स्थानों पर रविवार से बुधवार तक अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस से ऊपर रहने की संभावना है। गुरुवार से तापमान में मामूली गिरावट आने की संभावना है।

वहीं, अप्रैल के पहले हफ्ते में राजस्थान व दक्षिण भारत के तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश और तेंलगाना के कई हिस्सों में भीषण लू चलने लगी है। यहां के लोग गर्मी से बेहाल हो रहे हैं।