पाक-ईरान सीमा बंद होने से फंसे चार लोगों की मौत

 


पाक-ईरान सीमा बंद होने से फंसे चार लोगों की मौत

पाकिस्तान द्वारा ईरान से लगती सीमा को बंद करने के बाद बलूचिस्तान में फंसे चार लोगों की मौत हो गई। पाकिस्तान के प्राधिकरणों ने एक माह पहले ग्वादर तुर्बत और पांजगुर पर ईरान के साथ की सीमा को बंद कर दिया।

माकरान, एएनआइ। ईरान-पाकिस्तान सीमा (Iran Pakistan Border) बंद होने के कारण बलूचिस्तान के माकरान में चार लोगों की मौत हो गई। सीमा पर इन लोगों की मौत भूख के कारण हो गई। पाकिस्तान के प्राधिकरणों ने एक माह पहले ग्वादर, तुर्बत और पांजगुर  पर ईरान के साथ की सीमा को बंद कर दिया।

ईरान से पाकिस्तान आने वाले ईरानी पेट्रोल और डीजल के साथ सैंकड़ों पिकअप और अन्य वाहनों को सीमा पर ही रोक दिया गया। इन वाहनों के ड्राइवरों के पास खाने और पानी के लिए कोई स्रोत नहीं है। इनमें से चार ड्राइवरों की मौत हो गई क्योंकि न इनके पास खाना था और न पानी। इसमें से एक मृतक के परिजन फजल अहमद ने बताया कि वाहनों के साथ सीमा पर रोके गए ड्राइवरों के पास भोजन पानी का उचित प्रबंध नहीं है। उन्होंने सरकार से इसपर तुरंत कार्रवाई का आग्रह किया है ताकि सैंकड़ों लोगों की जान बच सके। 

डॉन के अनुसार, सीमा पर वाहनों की आवाजाही को भी रोक दिया गया। पाक-ईरान सीमा पर व्यापार पर रोक लगाए जाने के खिलाफ  सैंकड़ों लोगों ने ग्वादर में विरोध प्रदर्शन किया और रैली निकाली। नारे लगाते हुए लोगों की भीड़ ग्वादर की विभिन्न सड़कों पर दिखी। रैली में शामिल  प्रदर्शनकारियों को संबोधित करते हुए स्पीकरों ने सीमा को बंद किए जाने का विरोध किया और कहा कि यदि उनकी मांगों को 23 अप्रैल तक पूरा नहीं किया गया तो वे माकरान में नेशनल हाइवे को बंद कर देंगे । बॉर्डर ट्रेड यूनियन के अध्यक्ष मोहम्मद असलम (Mohammad Aslam) ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि माकरान में रहने वाले अधिकांश लोगों की जीविका ईरान के साथ व्यापार पर ही निर्भर है। बता दें कि दोनों देशों के बीच हाल में ही सीमा पार आर्थिक आदान-प्रदान को मजबूत करने के प्रयासों में संयुक्त सीमा बाजार स्थापित करने के लिए एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किया गया।