विधायक की शादी में उड़ीं कोरोना गाइडलाइन की धज्जियां, कहा- मैं जनप्रतिनिधि हूं

 

Rajasthan: विधायक की शादी में उड़ीं कोरोना गाइडलाइन की धज्जियां। फाइल फोटो

राजस्थान में भारतीय ट्राइबल पार्टी के विधायक राजकुमार रोत के विवाह समारोह में जमकर कोरोना गाइडलाइन की जमकर धज्जियां उड़ीं। इस दौरान ना तो समारोह स्थल को सैनिटाइज किया गया और ना ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन हुआ।

संवाददाता, जयपुर। बढ़ती कोरोना महामारी के बीच राजस्थान सरकार ने सख्ती बढ़ाई है। विवाह समारोह में 50 से अधिक लोगों के शामिल होने पर आयोजकों का चालान किया जा रहा है। उनके खिलाफ पुलिस केस दर्ज कर रही है। इसी बीच, भारतीय ट्राइबल पार्टी के विधायक राजकुमार रोत के विवाह समारोह में जमकर कोरोना गाइडलाइन की धज्जियां उड़ीं। ना तो समारोह स्थल को सैनिटाइज किया गया और ना ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन हुआ। रविवार को विधायक के विवाह समारोह में बड़ी संख्या में लोग शामिल हुए। डूंगरपुर जिले के कुशालमगरी क्षेत्र में विवाह हुआ। आसपास के गांवों से गाड़ियों में लोगों को विवाह समारोह स्थल पर पहुंचाया गया।

बैंड-बाजों से बारात निकली, विधायक घोड़ी पर चढ़े तो उनके पीछे बड़ी संख्या में लोग बारात में चले। आदिवासी परंपरा के अनुसार, विधायकों ने ढोल मंजीरे बजाए। अधिकांश लोगों ने मास्क नहीं लगा रखा था। सामूहिक भोज का आयोजन भी हुआ। खुद के विवाह समारोह में भीड़ जुटने पर जब विधायक से बात की गई तो उन्होंने कहा कुछ खास लोगों को बुलाया गया है, बाकी लोग अपनी मर्जी से आ गए तो उन्हें रोका तो जा नहीं सकता, आखिरकार मैं जनप्रतिनिधि हूं। रोत का विवाह सरकारी स्कूल में टीचर गीता के साथ हुआ है।

उधर, रविवार सुुबह लागू हुई नई गाइडलाइन के तहत विवाह समारोह में बारात निकलने के बाद भोजन व अन्य कार्यक्रम तीन घंटे में पूरे करने होंगे। उपखंड अधिकारी व पुलिस तय करेगी कि 50 से अधिक लोग शामिल नहीं हो। निजी वाहन एक से दूसरे जिले में नहीं जा सकेंगे। रोडवेज बसों का ही आवागमन होगा। जिनमें कुल क्षमता की 50 फीसद सवारी ही बिठाई जा सकेगी। जरूरी सामान की दुकानें सुबह आठ से 11 बजे तक ही खुल सकेगी। सरकारी कार्यालयों में 50 फीसद कर्मचारी ही शामिल हो सकेंगे। अंतिम संस्कार में 20 लोग ही शामिल हो सकेंगे। सरकार ने पहले से ही तय कर रखा है कि 30 अप्रैल तक मॉल, शॉपिंग सेंटर्स, सिनेमा घर, जिम बंद रहेंगे।