एफएटीएफ से डरे पाक ने हाफिज पर कसा शिकंजा, मुंबई हमले के मास्टर माइंड के पांच गुर्गों को नौ साल की कैद


पाकिस्‍तान ने मुंबई हमले के मास्टर माइंड हाफिज सईद के पांच गुर्गों को घेरे में लिया है।

पाकिस्‍तान ने मुंबई हमले के मास्टर माइंड हाफिज सईद के पांच गुर्गों को घेरे में लिया है। यही नहीं इन सभी को आतंकरोधी अदालत ने आंतकी फडिंग केस में नौ-नौ साल की सजा सुनाई है। उनकी संपत्ति जब्त करने के भी आदेश दिए हैं।

लाहौर, पीटीआइ। पाकिस्तान ने फाइनेंस एक्शन टास्क फोर्स (FATF) की काली सूची में जाने से बचने के लिए लश्कर संस्थापक हाफिज सईद पर मजबूरी में शिकंजा कसा है। पाकिस्‍तान ने मुंबई हमले के मास्टर माइंड हाफिज सईद पर सीधी कार्रवाई के बजाय उसके पांच गुर्गों को घेरे में लिया है। इन सभी को आतंकरोधी अदालत ने आंतकी फडिंग केस में नौ-नौ साल की सजा सुनाई है। उनकी संपत्ति जब्त करने के भी आदेश दिये हैं।

जिन आतंकियों पर कार्रवाई की गई है, उनमें से तीन उमर बहादुर, नसरुल्लाह और समीउल्लाह हैं। कार्रवाई की पहल पंजाब प्रांत के आतंकरोधी विभाग ने की थी। जिन अन्य दो लोगों पर कार्रवाई की है, उनमें जमात उद दावा के प्रवक्ता याह्या मुजाहिद और प्रमुख नेता प्रोफेसर जफर इकबाल हैं। इन पर पहले भी आतंकी फंडिंग का केस चल चुका है। आतंकरोधी अदालत के जज एजाज अहमद बटर ने इन सभी पांचों आतंकियों को नौ साल की सजा सुनाई है।

इसी मामले में हाफिज सईद के साले हाफिज अब्दुल रहमान मक्की को छह माह जेल की सजा सुनाई है। अदालत ने इन सभी को आतंकी फडिंग का दोषी माना है। ये सभी अवैध रूप से आतंकी गतिविधियों के लिए फंड इकट्ठा करते थे और प्रतिबंधित संगठनों की मदद कर रहे थे। अदालत ने इन सभी की फडिंग से बनाई गई संपत्ति को जब्त करने के भी आदेश दिए हैं।

इस केस की सुनवाई के दौरान सभी आंतकियों को कड़ी सुरक्षा के बीच अदालत में पेश किया गया। इस दौरान मीडिया के मौजूद रहने पर पाबंदी थी। पंजाब पुलिस ने हाफिज सईद सहित इन सभी आतंकियों के खिलाफ करीब 41 एफआइआर दर्ज की हुई हैं। हाफिज सईद संयुक्त राष्ट्र से घोषित इनामी आंतकी रहा है। पाक ने कुछ समय पहले उसे अंतरराष्ट्रीय दबाव में गिरफ्तार किया था। अब वह फिर पाक के संरक्षण में रह रहा है।