बंगाल में मतदान के बीच हिंसा, भाजपा कार्यकर्ता की पत्‍नी की हत्या; तृणमूल पर लगा आरोप

 

भाजपा समर्थक की मां की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई।

 बंगाल चुनाव के तीसरे चरण का मतदान की शुरूआत के साथ हिंसा आरंभ हो गई है। हुगली में भाजपा समर्थक की पत्‍नी की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई। मृतका का नाम माधुरी अदक है। मृतका के परिजनों ने हत्या के पीछे तृणमूल कांग्रेस का हाथ बताया है।

कोलकाता, राज्य ब्यूरो। बंगाल के हुगली जिले में मतदान शुरू होने से कुछ घंटे पहले एक भाजपा (BJP) समर्थक की पत्नी की कथित रूप से हत्या कर दी गई। पुलिस ने मंगलवार को इस बारे में जानकारी दी। पुलिस ने बताया कि घटना राजनीतिक रूप से संवेदनशील जिले के गोघाट (Goghat) इलाके में सोमवार रात करीब 11 बजे घटी। उन्होंने बताया कि माधवी अदक उस वक्त घायल हो गई जब कुछ लोग उनके घर में घुस आए और उनके पति पर हमला करने लगे। अदक के परिवार ने आरोप लगाया कि घटना के पीछे तृणमूल कांग्रेस (Trinmool Congress) का हाथ है। हालांकि सत्तारूढ़ पार्टी ने इन आरोपों से इन्कार किया है। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया, ‘‘महिला ने हमलावरों को रोकने का प्रयास किया। इसके बाद हमलावरों ने महिला की पिटाई की जिससे उसकी मौत हो गई। इसके बाद बदमाश वहां से फरार हो गए।’’ भाजपा ने घटना के संबंध में स्थानीय पुलिस थाना में शिकायत दर्ज कराई है। उन्होंने बताया कि जांच जारी है और घटना में शामिल लोगों को पकड़ने का प्रयास किया जा रहा है। इस घटना से इलाके में रोष का माहौल है।

हावड़ा के बगनान में तृणमूल के कैंप ऑफिस में तोड़फोड़

हावड़ा जिले के बगनान में तृणमूल के कैंप ऑफिस में तोड़फोड़ की खबर है। आरोप भाजपा पर लगा है। इसी तरह दक्षिण 24 परगना जिले के कैनिंग में भाजपा कार्यकर्ता के घर में घुसकर उसकी पिटाई का मामला सामने आया है। हुगली जिले के जंगीपाड़ा के डी एम हाई स्कूल में बने बूथ में राज्य पुलिस के कर्मियों को देखे जाने पर भाजपा प्रत्याशी देवजीत सरकार ने उन्हें बाहर निकाला। उन्होंने चुनाव आयोग से भी इसकी शिकायत की है। उलबेरिया में तृणमूल नेता के घर में ईवीएम व वीवीपैट पाया गया है। बारुईपुर पूर्व के सातगाछी इलाके में मतदाताओं को मारने-पीटने और डराने-धमकाने का आरोप तृणमूल पर लगा है। तृणमूल की तरफ से इस पर अब तक कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है।

 तृणमूल कांग्रेस और आइएसएफ के प्रत्याशियों में बहस 

मगराहाट पश्चिम विधानसभा सीट पर तृणमूल कांग्रेस और आइएसएफ के प्रत्याशियों में एक बूथ के बाहर जमकर बहस हुई। तृणमूल कांग्रेस प्रत्याशी और राज्य के मंत्री गियासुद्दीन मोल्ला और आइएसएफ के मइदुल इस्लाम में यह वाकयुद्ध छिड़ा। मइदुल ने मोल्ला पर उन्हें डराने-धमकाने का आरोप लगाया है जबकि मोल्ला का कहना है कि मइदुल शांतिपूर्ण तरीके से मतदान में बाधा डालने की कोशिश कर रहे हैं।

पश्चिम बंगाल में मंगलवार सुबह 7 बजे से ही तीसरे चरण का मतदान जारी है। आज  हावड़ा, हुगली, दक्षिण 24 परगना और डायमंड हार्बर की 31 सीटों पर वोट डालें जा रहें हैं इन सीटों पर 205 उम्मीदवार मैदान में हैं। राज्य में दो चरणों में 60 सीटों पर मतदान हो चुका है। राज्य विधानसभा की 294 सीटों के लिए आठ चरणों में चुनाव हो रहे हैं।