महामारी से निपटने में रक्षा मंत्रालय के प्रयासों का रक्षामंत्री ने लिया जायजा, CDS समेत कई अधिकारियों से की बात

रक्षा मंत्री ने लिया महामारी से निपटने में रक्षा मंत्रालय के प्रयासों का जायजा

देश में कोरोना वायरस संक्रमण के नए मामले लगातार तीसरे दिन 3 लाख से अधिक रिकॉर्ड किए गए। इसके कारण देश में हाहाकार जैसे हालात हैं न तो अस्पताल में बेड है और न ही ऑक्सीजन। यहां तक कि श्मशान में भी जगह शेष नहीं।

 नई दिल्ली, एएनआइ। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शनिवार को कोविड-19 महामारी से निपटने में रक्षा मंत्रालय के प्रयासों का जायजा लिया। रक्षा मंत्री ने देश के चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ बिपिन रावत, रक्षा सचिव, DRDO के चेयरमैन समेत अन्य अधिकारियों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिग के जरिए महामारी के संकट के समाधान को लेकर उठाए गए कदमों पर विस्तार से बातचीत की। 

बता दें कि आज विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन के महानिदेशक डॉक्टर ट्रेड्रोस अधनम घेब्रेसेयस ने कहा है कि यह आशाजनक है कि महामारी के दौरान देश अपनी आवश्यक स्वास्थ्य सेवाओं को सुदृढ करने के प्रयास शुरू कर रहे हैं, लेकिन अभी बहुत कुछ किया जाना बाकी है।  आज देश में 24 घंटे के भीतर 3,46,786 नए मामले दर्ज किए गए हैं। यह आंकड़ा दुनिया भर के किसी देश में आए मामलों में सबसे अधिक है। वहीं इस अवधि में 2,19,838 लोग डिस्चार्ज हुए हैं और 2,624 लोगों की मौत हो गई है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, देश में कोरोना वायरस संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 1,66,10,481 हो गई है। वहीं अब तक कुल 1,89,544 संक्रमितों की मौत हो चुकी है। देश में अभी सक्रिय मामलों का कुल आंकड़ा 25,52,940 है और अब तक 1,38,67,997 मरीज ठीक होकर अपने घर जा चुके हैं।