दिल्ली से सटे NCR में है शादी तो जान लें हरियाणा सरकार का नया नियम

 

सरकार के आदेश के मुताबिक अब यहां दूल्हा दुल्हन को शादी के लिए मात्र चार घंटे का वक्त मिलेगा।
दिल्ली से सटे हरियाणा के गुरुग्राम-फरीदाबाद में भी अब एक नया नियम लागू हो गया है। हरियाणा सरकार में गृह मंत्री अनिल विज ने बताया कि हरियाणा में शादी और अन्य कार्यक्रमों के लिए नए आदेश जारी किए गए हैं।

गुरुग्राम,  संवाददाता।  कोरोना के बढ़ते केस का असर अब लगभग सभी जगह दिखने लगा है। कहीं लॉकडाउन तो कहीं वीकली लॉकडाउन जैसे हालात हैं। दिल्ली से सटे हरियाणा के गुरुग्राम-फरीदाबाद में भी अब एक नया नियम लागू हो गया है। हरियाणा सरकार में गृह मंत्री अनिल विज ने बताया कि हरियाणा में शादी और अन्य कार्यक्रमों के लिए नए आदेश जारी किए गए हैं। यहां पर अब शादी समारोह मात्र चार घंटे में निपटाने होंगे। सरकार के आदेश के बाद अब गुरुग्राम और फरीदाबाद, पलवल, रेवाड़ी समेत कई जिलों में शादी समारोह के लिए यह नया नियम अब लागू हो गया है।

शादी के लिए मात्र चार घंटे

सरकार के आदेश के मुताबिक अब यहां दूल्हा दुल्हन को शादी के लिए मात्र चार घंटे का वक्त मिलेगा जिसमें उन्हें अपने सारे वैवाहिक कार्यक्रम निपटाने होंगे। बता दें कि भारत में अमूमन शादियां शाम को या रात के वक्त ही होती है। यहां पर कोरोना के बढ़ते केस के कारण शाम छह बजे से लॉकडाउन का आदेश है। इसके लिए यह भी तय है कि अगर कोई आदेश का पालन नहीं करता है तो संबंधित थाने पर जिम्मेदारी तय होगी। इस कारण अब नाइट कर्फ्यू के बाद शाम में किसी प्रकार की इजाजत अब नहीं होगी। यह भी बता दें कि सरकार के ताजा आदेश में यह भी बताया गया है कि अगर शाम 6 बजे के कार्यक्रम करनी है तो इसके लिए स्थानीय प्रशासन से इजाजत लेनी होगी।

नाइट कर्फ्यू का दिखा असर

बता दें कि इससे पहले शुक्रवार शाम छह बजते ही सदर बाजार ही नहीं बल्कि शहर के सभी बाजारों से लेकर माल तक में सन्नाटा पसर गया। गलियों की दुकानें बंद हो गईं। केवल अतिआवश्यक वस्तुओं से संबंधित दुकानें ही खुली दिखाई दीं। दरअसल, कोरोना संक्रमण को देखते हुए प्रदेश सरकार ने आदेश जारी किया है कि शाम छह बजे के बाद केवल अतिआवश्यक वस्तुओं से संबंधित दुकानें ही खुली रहेंगी।

दिल्ली के लॉकडाउन का गुरुग्राम पर दिख रहा असर

प्रतिदिन इसी तरीके से दुकानें समय से बंद हो जाएं इसके लिए पुलिस आयुक्त केके राव ने सभी सहायक पुलिस आयुक्त एवं पुलिस उपायुक्तों की जिम्मेदारी तय कर दी है। सभी थाना प्रभारी अलग-अलग टीम बनाकर कारोबारियों से लगातार संवाद करेंगे। इधर, दिल्ली में लाकडाउन का असर गुरुग्राम में बढ़ता जा रहा है। उद्योग विहार इलाके की अधिकतर औद्योगिक इकाइयों में 40 फीसद से भी कम मैनपावर पहुंचे। इसका सबसे अधिक गारमेंट सेक्टर पर पड़ रहा है। बता दें कि उद्योग विहार इलाके में काम करने वाले अधिकतर श्रमिक दिल्ली के कापसहेड़ा, रजोकरी एवं सालापुर इलाके में रहते हैं।

ग्रीन कारिडोर के लिए हितेश यादव नोडल आफिसर नियुक्त

राजस्थान के भिवाड़ी या कहीं से भी आक्सीजन टैंकर लाने के दौरान ग्रीन कारिडोर (रास्ता साफ रहे) देने के लिए सहायक पुलिस आयुक्त (मानेसर) हितेश यादव को नोडल आफिसर की जिम्मेदारी सौंपी गई है। बृहस्पतिवार शाम फोर्टिस अस्पताल में भिवाड़ी से आक्सीजन गैस पहुंचाने के दौरान सभी थाना पुलिस अपने इलाके में अलर्ट रही। इससे कहीं भी रास्ते में बाधा नहीं उत्पन्न हुई।