महामारी में महंगाई की मार, 10 दिन में 7 बार बढ़े पेट्रोल-डीजल के दाम

पेट्रोलियम पदार्थ के दामों में लगातार बढ़ोत्तरी हो रही है

 कोरोना संक्रमण के कारण जहां हर शख्‍स परेशान हैं वहीं बढ़ती महंगाई ने आम लोगों का जीना मुश्किल किया हुआ है। देश में लगातार पेट्रोलियम पदार्थ के दाम बढ़ रहे हैं।देश के कुछ जगहों पर तो पेट्रोल 100 के पार पहुंच गया है।

भुवनेश्वर,संवाददाता। महामारी के समय में महंगाई की मार ने आम लोगों का जीना दूभर कर दिया है। बार-बार पेट्रोलियम पदार्थ के दामों में बढ़ोत्तरी हो रही है, जिसके चलते देश के कुछ जगहों पर तो पेट्रोल (Petrol Price) 100 के पार पहुंच गया है और ओडिशा में भी कुछ जगहों पर स्पीड ऑयल की कीमत (Speed Oil Price 100 रूपये प्रति लीटर के करीब पहुंच गई है।

मालकानगिरी जिले में 100 रुपया के करीब अर्थात 99 रुपये 79 पैसे पेट्रोल बिक रहा है जबकि डीजल की कीमत भी 97 रुपये 64 पैसे तक पहुंच गई है। भुवनेश्वर में भी पेट्रोल की कीमत 94 रुपये 72 पैसे है जबकि डीजल की कीमत 92 रुपये 55 पैसे है। पिछले दो महीने में पेट्रोल की दर 3 रुपये 45 पैसे बढ़ी है जबकि डीजल की दर 4 रुपये 43 पैसे बढ़ी है। पिछले 10 दिनों में पेट्रोल ए​वं डीजल की दर 7 बार बढ़ायी गई है।

पेट्रोलियम पदार्थ की कीमत बढ़ने से आम जनमानस पर इसका सीधा असर पड़ रहा है। इससे बाजार में अन्य सभी खाद्य सामग्रियों की कीमत बढ़ गई है। अन्तर्राष्ट्रीय बाजार में क्रूड आयल बैरेल प्रति 5 से 6 डालर बढ़ने के कारण यह स्थिति उत्पन्न होने की बात कही जा रही है। 

खाद्य सामग्रियों की कीमत में इजाफा

यहां उल्लेखनीय है कि पेट्रोलियम दर वृद्धि का सीधा असर बाजार में देखा जा रहा है। सब्जी से लेकर राशन तक सभी खाद्य सामग्रियों की कीमत में इजाफा हो गया है। कोरोना महामारी के बीच इस तरह से विभिन्न सामग्रियों की कीमत बढ़ने से आम लोगों की मुसीबत बढ़ गई है। एक तरफ जहां कोरोना महामारी के कारण कारोबार ठप पड़े हुए हैं। गरीब मजदूर बेरोजगार होकर घरों में बैठे हैं, वहीं दूसरी तरफ महंगाई की मार ने आम लोगों का जीना दूभर कर दिया है।