बंगाल में हिंसा के खिलाफ प्रदर्शन करने पर भाजपा महिला मोर्चा की राष्ट्रीय अध्यक्ष समेत 10 नेता गिरफ्तार, रिहा

 

बंगाल में विधानसभा चुनाव के नतीजों के बाद से राजनीतिक हिंसा जारी

बंगाल में विधानसभा चुनाव के नतीजों के बाद से जारी राजनीतिक हिंसा के खिलाफ शुक्रवार को कोलकाता में गांधी मूर्ति के समक्ष प्रदर्शन कर रहीं भाजपा महिला मोर्चा की राष्ट्रीय अध्यक्ष वानती श्रीनिवासन समेत कई नेताओं को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।

राज्य ब्यूरो, कोलकाता : बंगाल में विधानसभा चुनाव के नतीजों के बाद से जारी राजनीतिक हिंसा के खिलाफ शुक्रवार को कोलकाता में गांधी मूर्ति के समक्ष प्रदर्शन कर रहीं भाजपा महिला मोर्चा की राष्ट्रीय अध्यक्ष वानती श्रीनिवासन समेत 10 नेताओं को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। श्रीनिवासन के अलावा जिन नेताओं को गिरफ्तार किया गया उनमें राज्यसभा सदस्य रूपा गांगुली, प्रदेश महिला मोर्चा की अध्यक्ष व आसनसोल दक्षिण विधानसभा से नवनिर्वाचित विधायक अग्निमित्रा पाल एवं विधायक चंदना बाउरी व अन्य शामिल हैं। हालांकि, पुलिस ने शाम में इन सभी महिला नेताओं को छोड़ दिया।

प्रदेश भाजपा इकाई की ओर से आरोप लगाया गया है कि गांधी मूर्ति के समक्ष शांतिपूर्ण तरीके से विरोध प्रदर्शन के बावजूद पुलिस ने इन्हें गिरफ्तार कर लिया। बताते चलें कि पुलिस ने कोविड-19 के बढ़ते प्रकोप के चलते गांधी मूर्ति के समक्ष धरना और विरोध प्रदर्शन की अनुमति नहीं दी थी। इसके बावजूद भाजपा महिला मोर्चा के नेताओं ने शांतिपूर्ण तरीके से विरोध जताने की कोशिश की लेकिन पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया।

गौरतलब है कि राज्य भर में जारी हिंसा को लेकर भाजपा लगातार आरोप लगा रही है कि सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं द्वारा उनके कार्यकर्ताओं पर हमले किए जा रहे हैं। वहीं, कई महिला कार्यकर्ता भी हिंसा की शिकार हुई हैं और कईयों के साथ कथित तौर पर दुष्कर्म तक किए जाने का भाजपा ने दावा किया है। इसी के खिलाफ महिला मोर्चा की नेताओं में यहां धरना प्रदर्शन आयोजित की थी।