कोविड-19 से लड़ाई में भारत को मिली अमेरिकी एक्सपर्ट डॉक्टर फॉसी की सलाह, जानें क्या कहा

भारत को मिली अमेरिकी एक्सपर्ट डॉक्टर फॉसी की सलाह

डॉक्टर एंथनी फॉसी (Dr Anthony Fauci) ने भारत सरकार को महामारी से निपटने में अहम सलाह दी । इसमें सेना समेत तमाम संसाधनों का इस्तेमाल करने को कहा और दूसरे देशोंं से भी ऑक्सीजन के साथ मानव संसाधन भी मांगने को कहा।

वाशिंगटन, प्रेट्र। भारत में महामारी कोविड-19 के कारण उत्पन्न हालात को चिंताजनक करार देते हुए अमेरिका के शीर्ष स्वास्थ्य विशेषज्ञ डॉक्टर एंथनी फॉसी (Dr Anthony Fauci) ने सरकार को कुछ सुझाव दिए हैं ताकि इसे निपटने में सहायता मिले। उन्होंने भारत सरकार से सभी संसाधनों का इस्तेमाल महामारी से निपटने में करने की सलाह दी। उन्होंने कहा कि सशस्त्र सेना समेत, तुरंत खाली पड़े जगहों जैसे स्कूल, कॉलेज, ऑफिस आदि को अस्थायी तौर पर अस्पतालों में बदलने पर काम होना चाहिए। साथ ही दूसरे देशों से न केवल सामग्री बल्कि मानव संसाधन की भी मदद मांगनी चाहिए।

80 वर्षीय डॉक्टर फॉसी ने वैक्सीनेशन की प्रक्रिया में तेजी लाने की सलाह दी और कहा, 'अभी उन्हें जितना ज्यादा संभव हो अधिक से अधिक लोगों को वैक्सीन की खुराक देनी चाहिए। देश में संक्रमण का आंकड़ा 2 करोड़ से अधिक होने के बाद अमेरिकी विशेषज्ञ की ओर से यह सलाह दी गई। वहीं अमेरिका में अब तक कुल संक्रमण का आंकड़ा 3.2 करोड़ है और महामारी की शुरुआत के बाद से अब तक यहां 5,77,000 की मौत हो चुकी है। 

कुछ सप्ताह का हो लॉकडाउन 

प्रेट्र को दिए गए साक्षात्कार में फॉसी ने देशव्यापी लॉकडाउन की भी सलाह दी। साथ ही उन्होंने कहा कि यह जरूरी नहीं कि 6 महीने के लिए ही हो बल्कि इसे कुछ सप्ताह के लिए लागू करना चाहिए ताकि चेन टूट सके। उल्लेखनीय है कि भारत में अब संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं जिसे देखते हुए फॉसी वैश्विक रूप से कोरोना संक्रमण को रोकने पर काम कर रहे हैं। 

दुनिया से भारत की मदद की अपील

डॉक्टर फॉसी ने भारत में कोविड-19 के कारण हालात को बेहद चिंताजनक बताया। इसके अलावा उन्होंने दुनिया के अन्य देशों को भारत की मदद के लिए आगे आने की अपील भी की। उन्होंने कहा, 'भारत की मदद के लिए दुनिया जरूरी सामान के अलावा मानव संसाधन भी भेज सकती है।' उन्होंने यह भी कहा, 'जब इतने सारे लोग एक साथ संक्रमित हो रहे हैं तो इसे रोकना आसान नहीं होता। ऐसे हालात में हर किसी की सही तरीके से देखभाल नहीं हो पाती है। इसके अलावा जब हॉस्पिटल में बेड की कमी हो और आक्सीजन की किल्लत हो तो हालत बिगड़ जाते हैं। इस वक्त भारत को पूरी दुनिया से मदद की जरूरत है।'

दूसरे देशों से मंगवा लें वैक्सीन

डॉक्टर फॉसी ने कहा, 'सबसे पहले जितने ज्यादा लोगों को वैक्सीन की जरूरत हो उन्हें वैक्सीन दी जानी चाहिए. दूसरे देशों से भी उन्हें वैक्सीन की सप्लाई लेनी चाहिए। चाहे वो अमेरिका हो या फिर रूस।' साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि वैक्सीन से तुरंत समस्या नहीं खत्म होगी, बल्कि इसमें कुछ हफ्ते का वक्त लग सकता है।