दिल्ली में 20 जून के बाद उपलब्ध होगी रूसी कोविड वैक्सीन स्पूतनिक-वीः केजरीवाल

 

सी कोविड वैक्सीन स्पूतनिक-वी (SputnikV) की फाइल फोटो

राजधानी दिल्ली में कोरोना वैक्सीन की कमी जल्द दूर हो जाएगी। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार कहा कि रूसी वैक्सीन स्पूतनिक-वी (SputnikV) दिल्ली में 20 जून के बाद उपलब्ध हो जाएगी। वैक्सीन आते ही लोगों को स्पूतनिक-वी लगाना शुरु कर दिया जाएगा।

नई दिल्ली,  राजधानी दिल्ली में कोरोना वैक्सीन की कमी जल्द दूर हो जाएगी। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को कहा कि रूसी कोविड वैक्सीन स्पूतनिक-वी (SputnikV) दिल्ली में 20 जून के बाद उपलब्ध हो जाएगी। वैक्सीन आते ही लोगों को स्पूतनिक-वी लगाना शुरु कर दिया जाएगा। मुख्यमंत्री ने ये बातें राजधानी में आयोजित टीकाकरण के एक कार्यक्रम के दौरान कही। उन्होंने बताया कि कोरोना का टीका स्पूतनिक-वी दिल्ली के लोगों को भी लगाया जाएगा। 

दरअसल, राजधानी दिल्ली में इस समय कोविशील्ड और कोवैक्सीन ही लगाई जा रही है। स्पूतनिक-वी के आने से वैक्सीन की कमी दूर करने में मदद मिलेगी। 

45 पार वाले 50 फीसद लोगों का हो चुका टीकाकरण

राजधानी में 45 या उससे अधिक उम्र के करीब 50 फीसद लोगों को वैक्सीन लगाई जा चुकी है। इससे ये लोग न सिर्फ हर्ड इम्युनिटी की तरफ बढ़ेंगे बल्कि दिल्ली के अन्य लोग भी सुरक्षित रहेंगे। इस आयु वर्ग के लोगों के लिए दिल्ली में अभी 3.50 लाख खुराक उपलब्ध हैं। इसमें कोवैक्सीन की करीब 40 हजार और कोविशील्ड की 3.10 लाख खुराक शामिल हैं। दिल्ली में अब तक 53 लाख 42 हजार 386 लोगों को टीका लग चुका है। इसमें से 41 लाख 38 हजार 523 लोगों को पहली और 12 लाख से ज्यादा लोगों को दोनों खुराक लगाई जा चुकी हैं।

डीएम कार्यालय व स्वास्थ्य विभाग की टीमें घर-घर जाकर लोगों को टीका लगवा रही हैं। इधर, वैक्सीन नहीं मिलने की वजह से 18 से 44 साल के लोगों का टीकाकरण एक सप्ताह से बंद है। आप की वरिष्ठ नेता और विधायक आतिशी ने रविवार को कहा कि दिल्ली के सरकारी स्कूलों में 100 से अधिक वाकिंग सेंटर खोल दिए गए हैं, जहां सीधे जाकर 45 और इससे अधिक उम्र के लोग वैक्सीन लगवा सकते हैं।