कामी रीता शेरपा ने 25वीं बार एवरेस्ट फतह कर बनाया विश्व कीर्तिमान, अपना ही रिकॉर्ड तोड़ा

 

कामी रीता शेरपा ने 25वीं बार एवरेस्ट फतह किया। (फोटो: दैनिक जागरण/प्रतीकात्मक)

 शिखर नेपाली पर्वतारोही कामी रीता शेरपा ने शुक्रवार को माउंट एवरेस्ट की चोटी पर 25वीं बार चढ़ने में सफलता हासिल की। इसके साथ ही 51 वर्षीय रीता विश्व के सबसे ऊंचे शिखर पर 25 बार चढ़ने वाली दुनिया की पहली पर्वतारोही बन गए।

काठमांडू, प्रेट्र। नेपाल के 52 वर्षीय कामी रीता शेरपा शुक्रवार को 25वीं बार दुनिया की सबसे ऊंचे पर्वत माउंट एवरेस्ट की चोटी पर पहुंच गए। इस तरह उन्होंने इस पर्वत शिखर पर सबसे ज्यादा बार पहुंचने का अपना ही रिकार्ड तोड़ दिया है।इस पर्वतारोहण अभियान के आयोजक सेवन समिट ट्रैक्स के चेयरपर्सन मिंगमा शेरपा ने बताया कि कामी रीता शेरपा इस अभियान में 11 अन्य शेरपाओं का नेतृत्व कर रहे हैं। यह दल शुक्रवार शाम सफलतापूर्वक माउंट एवरेस्ट की चोटी पर पहुंचा। कामी ने 24वीं बार इस पर्वत शिखर को 2019 में फतह किया था। 2019 में वह एक महीने में दो बार इस पर्वत शिखर पर चढ़ने में कामयाब रहे थे। वह सबसे पहले मई, 1994 में माउंट एवरेस्ट की चोटी पर पहुंचे थे। बता दें कि 1994 से 2021 के बीच कामी रीता माउंट एवरेस्ट पर 25 बार, के2 और माउंट ल्होत्से पर एक-एक बार, माउंट मनास्लु पर तीन बार और माउंट चो आयु पर आठ बार चढ़ चुके हैं।

माउंट एवरेस्ट के पर्वतारोहियों पर कोरोना संक्रमण का खतरा

कोरोना महामारी पूरी दुनिया में कोहराम मचा रही है, ऐसी स्थिति में चीन और नेपाल ने माउंट एवरेस्ट को पर्वतारोहण के लिए खोल दिया है। अब ये जानकारी सामने आ रही है कि पर्वतारोहियों में से कई कोरोना संक्रमित हो चुके हैं। पिछले दिनों ऐसे ही संक्रमित विदेशियों को एयरलिफ्ट करके काठमांडू के अस्पताल पहुंचाया गया है। कोरोना संक्रमण का यह मामला उस समय आया, जब कुछ पर्वतारोहियों की हालत खराब होने के बाद उनको अस्पताल में भर्ती कराया गया। दो सप्ताह पहले आए इन मरीजों के बारे में काठमांडू में विशेषष रूप से पर्वतारोहियों के लिए इलाज के लिए बने अस्पताल की बिजनेस डवलपमेंट हेड आस्था पंत ने बताया कि कोरोना के लक्षण वाले मरीजों को यहां लाया गया था। उनके आरटी-पीसीआर टेस्ट में कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि हुई थी।