ऑक्सीजन कंसंट्रेटर जमाखोरी मामले में नवनीत कालरा के पास से 2 फोन जब्त, फॉरेंसिक लैब भेजा गया

 

फोन को जांच के लिए फॉरेंसिक लैब भेजा गया है।

दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने दक्षिणी दिल्ली के एक रेस्टोरेंट में कथित तौर पर ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की जमाखोरी के मामले में कारोबारी नवनीत कालरा के पास से 2 सेल फोन जब्त किए हैं। फोन को जांच के लिए फॉरेंसिक लैब भेजा गया है।

 नई दिल्ली, एएनआइ। दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने दक्षिणी दिल्ली के एक रेस्टोरेंट में कथित तौर पर ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की जमाखोरी के मामले में कारोबारी नवनीत कालरा के पास से 2 सेल फोन जब्त किए हैं। फोन को जांच के लिए फॉरेंसिक लैब भेजा गया है। इसकी जानकारी दिल्ली पुलिस के सूत्रों ने दी है।

वहीं, आक्सीजन कंसंट्रेटर की कालाबाजारी के मामले में गिरफ्तार नवनीत कालरा की नियमित जमानत याचिका पर तेजी से सुनवाई करने का निर्देश देने से दिल्ली हाई कोर्ट ने इन्कार कर दिया। कालरा की तरफ से पेश हुए वरिष्ठ अधिवक्ता विकास पाहवा की अपील को न्यायमूर्ति सुब्रमण्यम प्रसाद ने यह कहते हुए ठुकरा दिया कि कानून को अपना काम करने दें। इसके साथ ही पीठ ने अग्रिम जमानत याचिका को यह कहते हुए खारिज कर दिया कि गिरफ्तारी के बाद इस पर सुनवाई का कोई औचित्य नहीं।

वहीं, विकास पाहवा ने सुनवाई के दौरान कहा कि उनके मुवक्किल पर निचली अदालत की टिप्पणियों को हटाया जाए। इस पर पीठ ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने पहले ही निचली अदालतों की टिप्पणियों और मीडिया रिपोर्टिग पर रुख स्पष्ट कर दिया है, लिहाजा निचली अदालत की टिप्पणियों पर कोई आदेश नहीं देंगे।अब तक का घटनाक्रमआक्सीजन कंसंट्रेटर कालाबाजारी मामले में फरार कालरा ने निचली अदालत से अग्रिम जमानत याचिका खारिज होने के बाद 13 मई को हाई कोर्ट में चुनौती याचिका दायर की थी।