500 रुपये का ऑक्सीमीटर 6000 में बेचते थे, चावड़ी बाजार मेट्रो स्टेशन के पास 3 शातिर गिरफ्तार

500 रुपये का ऑक्सीमीटर 6000 में बेचते थे, चावड़ी बाजार मेट्रो स्टेशन के पास 3 शातिर गिरफ्तार

दिल्ली पुलिस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए चावड़ी बाजार मेट्रो स्टेशन के पास 500-1000 रुपये के नियमित बाजार मूल्य से अधिक 6000 रुपये में ऑक्सी फ्लो मीटर बेचने के आरोप में 3 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

नई दिल्ली, एएनआइ। दिल्ली-एनसीआर में ऑक्सीजन को लेकर एक तरफ मारामारी मची है तो दूसरी ओर अवसरवादी जमकर लूट खसोट में लगे हुए हैं। दिल्ली पुलिस ने एक ऐसे शातिर गिरोह को पकड़ा है, जो 500-1000 रुपये का ऑक्सीमीटर 6000 तक रुपये में ब्लैकमेल में बेचते थे। संजय कुमार जैन डीसीपी उत्तर-पूर्व, दिल्ली (Sanjay Kumar Sain, DCP North-East) ने पूरे मामले को लेकर जानकारी दी है कि चावड़ी बाजार मेट्रो स्टेशन के पास 500-1000 रुपये के नियमित बाजार मूल्य से अधिक 6,000 रुपये में ऑक्सी फ्लो मीटर बेचने के आरोप में 3 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। इनके आरोपितों के पास 10 ऑक्सी फ्लो मीटर बरामद किया है।

वहीं, दिल्ली के लाल बहादुर शास्त्री अस्पताल में ऑक्सीजन के पूरी तरह से खत्म होने की खबर थी। इस समय, 37 मरीज इस अस्पताल में ऑक्सीजन सहायता पर हैं, जिनकी जान खतरे में थी। लेकिन, दिल्ली पुलिस जान बचाने के लिए 12 ऑक्सीजन सिलेंडर लेकर पहुंची।

नई दिल्ली जिला पुलिस कोरोना संक्रमण के इस विकराल दौर में जरूरतमंद लोगों की हर संभव मदद कर रही है। सोमवार को प्राइमस अस्पताल के प्रबंधक भानु शर्मा ने चाणक्य पुरी थाना पुलिस को सूचना दी कि अस्पताल में ऑक्सीजन खत्म होने वाला है। कोरोना संक्रमित सौ मरीजों की जान खतरे में हैं। ऐसे में एएसआइ सीताराम तत्काल आक्सीजन उपलब्ध कराने में जुट गए। इसके बाद उन्होंने लाजपत नगर से ऑक्सीजन टैंकर को लेकर बेहद कम समय में अस्पताल पहुंचाया। वहीं दूसरी ओर बाराखंभा थाना पुलिस ने लॉकडाउन के दौरान बेसहारा लोगों को भोजन कराया। पुलिस अधिकारी ने बताया कि इस समय पुलिस काम काफी बढ़ गया है। सुरक्षा के साथ-साथ लोगों की हर संभव सहायता की जा रही है। उन्होंने बताया कि इन दिनों पुलिस से लोग चिकित्सा संबंधी सहायता अधिक कर रहे हैं। लोगों की हर संभव मदद भी की जा रही है।