छत्तीसगढ़: बिलासपुर में एक परिवार के 8 लोगों की मौत, CMO ने कहा- होम्योपैथिक दवा पीनेे का मामला

बिलासपुर में एक परिवार के 7 लोगों की मौत
छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में गुरुवार को एक ही परिवार के सात लोगों की मौत हो गई है और पांच की हालत गंभीर बताई जा रही है। CMO की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार होम्योपैथिक दवा पीना इन मौतों का कारण हो सकता है।

बिलासपुर, एएनआइ। छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में गुरुवार को एक ही परिवार के आठ लोगों की मौत हो गई है और पांच की हालत गंभीर बताई जा रही है। मामले में Chief Medical Officer (CMO)  ने बताया, 'होमियोपैथिक दवा पीना इन मौतों का कारण हो सकता है। अन्य कारणों को पता करने के लिए भी टीम लगी है। 8 लोगों की मौत हो चुकी है और 5 अस्पताल में भर्ती हैं।' CMO के अनुसार इन लोगों ने होम्योपैथिक दवा Drosera 30 पी लिया था जिसमें 91 फीसद अल्कोहल होता है। डॉक्टर अभी फरार बताया जा रहा है। ऐसा बताया जा रहा है कि कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए इन लोगों ने एल्कोहल युक्त इस दवा का सेवन किया था।

यह मामला यहां के कोरमी गांव  का है जो सिरगिट्टी पुलिस स्टेशन के अंंतर्गत आता है। मृतकों में चार की मौत मंगलवार रात उनके घर में ही हो गई जबकि बाकियों की मौत अस्पताल में इलाज के दौरान हुई। यह जानकारी सुप्रिटेंडेंट ऑफ पुलिस प्रशांत अग्रवाल  ने दी।

शुरुआत की जांच के अनुसार, 32 वर्षीय कमलेश धुरी , 21 वर्षीय अक्षय धुरी  और राजेश धुरी व 25 वर्षीय समरु धुरी  ने होम्योपैथी दवा ड्रोसेरा- 30 सिरप मंगलवार रात पी लिया था। इसके बाद इन सबकी हालत खराब हो गई।

इन मौतों के मामलों को कोविड-19 संक्रमण से जोड़कर देखा गया और उनके परिजनों ने अगली सुबह ही अंतिम संस्कार कर दिया। इस मामले की जानकारी मिलने के बाद पुलिस की टीम बुधवार शाम को गांव पहुंची।