बेल्जियम ने रेमेडिसविर की 9000 शीशियां भारत पहुंचाई, फ्रांस और उज्बेकिस्तान ने भी भेजे मेडिकल उपकरण

बेल्जियम ने रेमेडिसविर की 9000 शीशियां भारत पहुंचाई, फ्रांस और उज्बेकिस्तान ने भी भेजे मेडिकल उपकरण

बढ़ते मामलों को देखते हुए देश में पैदा हुआ ऑक्सीजन संकट सहित तमाम मेडिकल उपकरण की कमी हो रही है। सरकार की तरफ से हरसभंव प्रयास किए जा रहे हैं। ताजा मदद बेल्जियम फ्रांस और उज्बेकिस्तान से की गई है।

नई दिल्ली, एएनआइ। कोरोना संकट का सामना कर रहे है भारत को अन्य देशों से भी पूरा सहयोग प्राप्त हो रहा है। बढ़ते मामलों को देखते हुए देश में पैदा हुए ऑक्सीजन संकट सहित तमाम मेडिकल उपकरण की कमी हो रही है। सरकार की तरफ से हरसभंव प्रयास किए जा रहे हैं कि कोरोना संक्रमण के दौरान पैदा हुए हालात पर काबू किया जा सके। ताजा मदद बेल्जियम, फ्रांस और उज्बेकिस्तान से की गई है।

कोरोना मरीजों के इलाज के लिए इस्तेमाल होने वाला रेमेडीसविर इंजेक्शन की भी कमी पैदा हो गई है। मुश्किल की इस घड़ी में बेल्जियम भी भारत की मदद के लिए सामने आया है। आज सुबह रेमेडीसविर की 9000 शीशियों की खेप बेल्जियम से भारत पहुंची है। विदेश मंत्रालय  (MEA) के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने इसकी जानकारी देते हुए कहा कि हम हमारे यूरोपीय संघ के साथी बेल्जियम से रेमेडिसविर की 9000 शीशियों का स्वागत करते हैं।

वहीं फ्रांस से भारत के लिए मेडिकल उपकरण की सप्लाई आज सुबह-सुबह की गई है। इसके साथ ही भारत में कोरोना के चलते पैदा हुए ऑक्सीजन संकट भी विकराल हो गया है। ऐसे में अन्य देशों की तरफ से ऑक्सीजन कंसेनटेरटर्स भी भेजे जा रहे हैं। उज्बेकिस्तान की तरफ से शनिवार को भारत को 100 ऑक्सजीन कंसेनटेरटर्स सप्लाई किए गए हैं।