श्रीलंका ने भारत से यात्रियों के आने पर तत्काल प्रभाव से लगाई पाबंदी, कोरोना के बढ़ रहे मामलों के चलते उठाया कदम

भारत में कोरोना महामारी की तीसरी लहर ने मचाया कोहराम

नागर विमानन महानिदेशक ने राष्ट्रीय विमान कंपनी श्रीलंका एयरलाइंस के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) को इस संबंध में एक पत्र लिखा है। प्राधिकरण ने गुरुवार को कहा कि भारत के यात्रियों को श्रीलंका आने की अनुमति नहीं होगी।

कोलंबो, एजेंसियां। श्रीलंका ने कोरोना के मामलों में तेज बढ़ोतरी के कारण भारत से यात्रियों के आगमन पर तत्काल प्रभाव से रोक लगाने की गुरुवार को घोषणा की। ब्रिटेन, संयुक्त अरब अमीरात (यूएई), आस्ट्रेलिया, सिंगापुर समेत कई देश भारत से आने वाले यात्रियों पर पहले ही पाबंदी लगा चुके हैं।

नागर विमानन प्राधिकरण ने गुरुवार को कहा कि भारत के यात्रियों को श्रीलंका आने की अनुमति नहीं होगी। भारत में कोरोना वायरस के तेजी से बढ़ रहे मामलों के कारण यह कदम उठाया गया है।नागर विमानन महानिदेशक ने राष्ट्रीय विमान कंपनी श्रीलंका एयरलाइंस के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) को इस संबंध में एक पत्र लिखा है। उन्होंने पत्र में लिखा है, कोरोना महामारी की स्थिति को लेकर श्रीलंका के स्वास्थ्य प्राधिकारों से मिले निर्देशों के अनुरूप यह निर्देश दिया जाता है कि तत्काल प्रभाव से भारत से आने वाले यात्रियों को श्रीलंका आने की अनुमति नहीं होगी।

अमेरिका ने सरकारी कर्मचारियों को दी स्वेच्छा से भारत छोड़ने की इजाजत

अमेरिका ने गैर आपातकालीन सरकारी कर्मचारियों को स्वेच्छा से भारत छोड़ने को मंजूरी दे दी है। पिछले सप्ताह विदेश मंत्रालय ने कहा था कि अमेरिका सरकार के कर्मचारियों के स्वजन स्वेच्छा से भारत छोड़ सकते हैं। इसके साथ ही अमेरिका ने अपने नागरिकों के लिए फिर से यात्रा परामर्श जारी करते हुए उन्हें भारत नहीं जाने की सलाह दी है। कोरोना वायरस की दूसरी लहर के चलते भारत की परिस्थिति को देखते हुए उसने अपने नागरिकों को यह सलाह दी है। अपने ताजा परामर्श में विदेश विभाग ने कहा, कोरोना वायरस के चलते भारत की यात्रा न करें।

आस्ट्रेलिया में भारत पर यात्रा प्रतिबंध को कोर्ट में चुनौती

भारत में रह रहे आस्ट्रेलियाई नागरिकों के घर लौटने पर अस्थायी प्रतिबंध को एक व्यक्ति ने सिडनी की संघीय अदालत में चुनौती दी है। यह व्यक्ति पिछले साल मार्च से बेंगलुरु में फंसा हुआ है। आस्ट्रेलिया सरकार ने अपने उन नागरिकों के देश लौटने पर प्रतिबंध लगा दिया है, जो उड़ान भरने से पहले 14 दिन तक भारत में रहे हैं।