क्यों राकेश टिकैट को फोन पर बार-बार मिल रही धमकी और गालियां, गिरफ्तार युवक ने बताया सच


भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत

लोग राकेश टिकैत को व्यक्तिगत रूप से संदेश भेजकर गालियां देने लगे हैं। शुक्रवार को राकेश टिकैत को गालियां देने के आरोप में उन्हीं के गृह जनपद में रहने वाला इंजीनियर जितेंद्र कुमार सिंह गिरफ्तार हुआ है।

नई दिल्ली/ गाजियाबाद, तीनों कृषि कानूनों के विरोध में यूपी गेट पर 28 नवंबर से हाईवे बंद कर धरना दे रहे प्रदर्शनकारियों से लोग आजिज आ चुके हैं। लोगों का गुस्सा गालियों के रूप में बाहर आने लगा है। इंटरनेट मीडिया पर अपना गुस्सा निकालने के बाद लोग अब धरने की अगुवाई कर रहे भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत को सीधे मोबाइल पर संदेश भेजकर गालियां दे रहे हैं। धरने को लोग अनुचित बता रहे हैं।

छह माह से बंद है हाईवे

राकेश टिकैत की अगुवाई में यूपी गेट पर 28 नवंबर से धरना शुरू हुआ है। प्रदर्शनकारियों ने 28 नवंबर को फ्लाईओवर के नीचे कब्जा किया था। दो दिसंबर को प्रदर्शनकारियों ने संपर्क मार्ग, राष्ट्रीय राजमार्ग-नौ और दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे की दिल्ली जाने वाली सभी लेनों पर कब्जा कर लिया था। तब से अब तक यहां से होकर लोग दिल्ली नहीं जा पा रहे हैं।

डासना से ही रूट डायवर्जन

यूपी गेट में हाईवे पर कब्जा होने के कारण यातायात पुलिस ने डासना से ही वाहनों का रूट डायवर्जन शुरू कर दिया है। जगह-जगह वाहनों को वैकल्पिक मार्गो से गुजारा जा रहा है। इससे दूरी बढ़ गई है। वाहन चालक इधर-उधर भटकते रहते हैं। सामान्य दिनों में जाम से भी जूझते थे। समय और ईधन की बर्बादी हो रही है।

यूपी गेट होकर दिल्ली नहीं जा पा रहे लोगों में काफी गुस्सा है। लोग इंटरनेट मीडिया के माध्यम से रास्ता खोलने की मांग कर रहे हैं। लोग लिख रहे हैं कि प्रदर्शनकारियों को प्रदर्शन करने का अधिकार है, लेकिन रास्ता रोक कर लोगों को परेशान करने का हक नहीं है। इसको लेकर लोग न्यायालय का दरवाजा खटखटा चुके हैं। धरना-प्रदर्शन कर चुके हैं। वरुण जोशी नामक युवक कई माह से लगातार ट्विटर के माध्यम से सड़क जाम को अनुचित बता रहे हैं। सड़क खोलने की मांग कर रहे हैं।

गाली देने के आरोप में इंजीनियर गिरफ्तार

वहीं, अब स्थिति इतना ज्यादा खराब हो गई है कि लोग राकेश टिकैत को व्यक्तिगत रूप से संदेश भेजकर गालियां देने लगे हैं। शुक्रवार को राकेश टिकैत को गालियां देने के आरोप में उन्हीं के गृह जनपद में रहने वाला इंजीनियर जितेंद्र कुमार सिंह गिरफ्तार हुआ है। पुलिस के मुताबिक उसने पूछताछ में बताया है कि धरने की वजह से परेशान होकर उसने यह कदम उठाया है।साहिबाबाद निवासी नितिन कुमार कहते हैं कि गालियां देना ठीक नहीं है, लेकिन राकेश टिकैत और प्रदर्शनकारियों को भी लोगों की परेशानी को समझना चाहिए। ऐसी व्यवस्था बनानी चाहिए कि उनके धरने से लोगों को समस्या न हो। यानी उन्हें किसी खाली स्थान पर धरना देना चाहिए।