उदयपुर में आठ साल की मासूस से चाचा ने किया दुष्कर्म, मुख्य आरोपित सहित तीन गिरफ्तार

 

उदयपुर में आठ साल की मासूस से चाचा ने किया दुष्कर्म। फाइल फोटो

उदयपुर जिले के झाड़ोल क्षेत्र में एक युवक ने अपनी आठ साल की मासूम भतीजी से दुष्कर्म किया। वारदात के समय जब बच्ची चीख रही थी तब अन्य दो युवक उसे बचाने की बजाय पहरेदारी कर रहे थे।

उदयपुर, संवाद सूत्र। राजस्थान में उदयपुर जिले के झाड़ोल क्षेत्र में एक युवक ने अपनी आठ साल की मासूम भतीजी से दुष्कर्म किया। वारदात के समय जब बच्ची चीख रही थी, तब अन्य दो युवक उसे बचाने की बजाय पहरेदारी कर रहे थे। शुक्रवार रात पुलिस ने दुष्कर्म के मुख्य आरोपित चाचा और उसे सहयोग करने वाले दोनों युवकों को गिरफ्तार कर लिया है। घटना चार मई की बताई जा रही है, लेकिन इसका खुलासा पुलिस ने आरोपितों की गिरफ्तारी के बाद किया। घटना के दिन मासूम अपने खेत में खेल रही थी कि उसका चाचा बच्ची को झाड़ियों के बीच खींचकर ले गया तथा उसके साथ दुष्कर्म किया। इस दौरान चाचा के दो दोस्त भी वहां मौजूद थे, लेकिन बच्ची को बचाने की बजाय वह आरोपित के लिए पहरेदारी कर रहे थे।

जांच अधिकारी पुलिस उप अधीक्षक चेतना भाटी ने बताया कि पांचवीं कक्षा की छात्रा दो दिन तक घर में डरी-सहमी रही, लेकिन उन्हें घटना की जानकारी नहीं दी। परिजनों को जब उसके व्यवहार को लेकर शंका हुई तो उन्होंने पूछा तो वह रोने लगी और आपबीती सुनाई। इस पर परिजन शुक्रवार शाम पीड़िता बच्ची को लेकर झाड़ोल थाने पहुंचे तथा आरोपितों के खिलाफ मामला दर्ज कराया। मामला दर्ज करने के साथ पुलिस ने आरोपितों की तलाश शुरू कर दी। पीड़िता ने बताया कि जब चाचा के मित्र आए तो उसे लगा कि वह उसकी मदद करेंगे, लेकिन उन्होंने उसे बचाया नहीं बल्कि चाचा के दुष्कर्म किए जाने के बाद उसे धमकाया था। दुष्कर्म पीड़िता बालिका का झाड़ोल के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर मेडिकल कराया गया है, जिसमें उसके साथ दुष्कर्म की पुष्टि हुई है। पुलिस उप अधीक्षक भाटी ने बताया कि दुष्कर्म के मुख्य आरोपित बालिका के चाचा के अलावा वारदात में उसकी मदद करने वाले दोनों दोस्तों को भी गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस इस मामले के हर पहलू की जांच कर रही है।