किसान आंदोलन को लेकर सरदार वीएम सिंह का बड़ा बयान, बोले- नेता बनने की होड़ में किसानों के मुद्दे पीछे छूटे

 

किसान आंदोलन को लेकर बोले किसान मजूदर संगठन के अध्‍यक्ष वीएम सिंह।

राष्ट्रीय किसान मजदूर संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष सरदार वीएम सिंह ने बिना नाम लिए कृषि कानूनों के विरोध में आंदोलन को लेेेेकर बड़ा बयान दिया है। किसान आंदोलन को लेकर कहा कि आंदोलन में राजनीति की जा रही है। किसान आंदोलन में अब किसान का मुद्दा पीछे छूट चुका है।

शामली। राष्ट्रीय किसान मजदूर संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष सरदार वीएम सिंह ने बिना नाम लिए कृषि कानूनों के विरोध में आंदोलन को लेेेेकर बड़ा बयान दिया है। किसान आंदोलन को लेकर कहा कि आंदोलन में राजनीति की जा रही है। कहीं न कहीं किसान आंदोलन में अब किसान का मुद्दा पीछे छूट चुका है। नेता बनने की होड़ में किसानों के मुद्दों को नेता भूल ही गए है। 

किसानों के हित में काम करें नेता

किसान मजदूर के राष्‍ट्रीय संगठन के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष वीएम सिंह ने आगे कहते हुए कहा कि भगवान इनको थोड़ी सद्बुद्धि दे कि ये किसानों के हित में और अच्‍छा काम करें। अपना ही नहीं, बल्कि किसानों का भी भला करें। उन्‍होंने कहा कि नेताओं के किसानों के बारे में सोचना चाहिए। आंदोलन को सही दिशा में लेकर जाना चाहिए। नेता बनने की होड़ नहीं बल्कि किसानों के मूद्दे को आगे लाना चाहिए।

किसान आंदोलन के लिए मैंने ही कहा था: वीएम सिंह

बाबा हरिकिशन की तेरहवीं में आए राष्ट्रीय किसान मजदूर संगठन के अध्यक्ष सरदार वीएम सिंह ने बातचीत में कहा कि 'नौ अगस्त (अगस्त क्रांति दिवस) को किसान आंदोलन की काल मैंने दी थी। मेरा लक्ष्य यही रहता है कि किसान बचे और किसान के घर में फायदा हो। किसान को मरवाने और पिटवाने का कभी कोई लक्ष्य नहीं होता है। 26 जनवरी को दिल्ली में जो कुछ हुआ, उसके बाद मैं पीछे हट गया था। क्योंकि मुझे आंदोलन के स्वरूप से दिक्कत है'। बोले कि हम किसानों की बेहतरी के लिए काम करते आए हैं, कर रहे हैं और करते रहेंगे। किसानों का गेहूं एमएसपी पर बिकवाने के लिए काम कर रहे हैं। हमारे लोगों पर मुकदमें तक दर्ज किए गए हैं।